पाक में पिछले 70 साल से बंद प्राचीन गुरुद्वारा खुला

ऑल पाकिस्तान हिंदू राइट्स मूवमेंट के अध्यक्ष हारून सरबदियाल ने कहा, ‘ऐतिहासिक सिख गुरुद्वारे को खोलना पाकिस्तान की वास्तविक नरम छवि पेश करता है,

Pakistan, Sikh Leader, Tehreek e Insaaf, Pak Sikh Leader Killing, Sikh Family, Pakistan Govt
पाकिस्तान का राष्ट्रीय ध्वज। (फाइल फोटो)

बंटवारे के दौरान सिखों के भारत चले जाने के बाद, पिछले 70 साल से बंद पड़े एक प्राचीन गुरुद्वारे को बुधवार को यहां एक विशेष समारोह में प्रार्थना के लिए फिर से खोला गया। हश्तनगरी इलाके के मोहल्ला जोगीवाड़ा में स्थित भाई बेबा सिंह गुरुद्वारे को खोले जाने पर अल्पसंख्यक समुदायों ने प्रसन्नता जताई है। इवैक्यू प्रॉपर्टी ट्रस्ट के अध्यक्ष सिदीक-उल-फारूक ने औपचारिक रूप से नाम पट्टिका का अनावरण कर गुरुद्वारे को फिर से खोला। मंदिर खुलते ही सिखों ने धार्मिक रीति-रिवाजों से प्रार्थना की।

ऑल पाकिस्तान हिंदू राइट्स मूवमेंट के अध्यक्ष हारून सरबदियाल ने कहा, ‘ऐतिहासिक सिख गुरुद्वारे को खोलना पाकिस्तान की वास्तविक नरम छवि पेश करता है, जहां अल्पंसख्यकों को जीवन और प्रार्थना का समान अधिकार मिल रहा है।’ खैबर-पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री के विशेष सहायक सरदार सूरन सिंह ने कहा, ‘बंद गुरुद्वारे को खोलने का मुश्किल फैसला कर सरकार ने अल्पसंख्यकों को समुचित अधिकार दिया है।’

अपडेट