ताज़ा खबर
 

प्रतिबंधित समूहों के नेताओं से मिले पाक के गृहमंत्री, इमरान खान के विरोध मार्च में शामिल हो सकते हैं आतंकी

यह मुलाकात इस आशंका के बीच हुई है कि ये संगठन इमरान खान के विरोध मार्च में शामिल हो सकते हैं जो भ्रष्टाचार के आरोपों पर प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बर्खास्तगी की मांग कर रहा है।

Author इस्लामाबाद | Updated: October 22, 2016 4:34 PM
Chaudhry Nisar Ali Khan news, Pakistan Chaudhry Nisar Ali Khan, Chaudhry Nisar Ali Khan latest news, Donald Trump Visa Policyपाकिस्तान के गृहमंत्री निसार अली खान। (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के गृह मंत्री निसार अली खान ने दो प्रतिबंधित समूहों के प्रमुखों से मुलाकात की है जिसमें से एक को अमेरिका ने खूंखार आतंकी घोषित किया हुआ है। यह मुलाकात इस आशंका के बीच हुई है कि ये संगठन अगले हफ्ते होने वाले इमरान खान के विरोध मार्च में शामिल हो सकते हैं जो भ्रष्टाचार के आरोपों पर प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बर्खास्तगी की मांग कर रहा है। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के प्रमुख खान ने धमकी दी है कि वह दो नवंबर को राजधानी इस्लामाबाद को बंद कर देंगे।

तालिबान के गॉडफादर माने जाने वाले मौलाना समी-उल-हक ने ऐलान किया था कि उनकी दिफ्श-ए-पाकिस्तान काउंसिल (डीसीसी) प्रदर्शन में शामिल होगी जिस वजह से सरकार में खलबली मच गई थी। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार देश में मदरसों को निशाना बना रही है। हक ने एक प्रतिनिधिमंडल के साथ शुक्रवार (21 अक्टूबर) को निसार से मुलाकात की थी। उनके प्रतिनिधिमंडल में प्रतिबंधित अहल-ए-सुन्नत वल जमात (एएसडब्ल्यूजे) के मौलाना मोहम्मद अहमद लुधियानवी और प्रतिबंधित हरकत-उल-मुजाहिदीन (एचयूएम) के मौलाना फजल-उल-रहमान खलील सहित अन्य शामिल थे।

एचयूएम को प्रतिबंधित करने के बाद खलील ने अंसार-उल-उम्मा संगठन स्थापित किया था। एसडब्ल्यूजे, प्रतिबंधित शिया विरोधी सिपाह-ए-सेहाबा पाकिस्तान (एसएसपी) का उत्ताधिकारी है लेकिन कुछ साल पहले इसे भी प्रतिबंधित कर दिया गया था। प्रतिनिधिमंडल के नेता सरकार द्वारा उन लोगों के राष्ट्रीय पहचान पत्र रद्द करने के ऐलान से गुस्सा थे जो चौथी सूची में शामिल हैं। इसका मतलब यह हुआ कि उनके लिए देश में कोई कारोबार करना या पासपोर्ट बनवाना अंसभव है।

Next Stories
1 पाकिस्तान से 10 सुपर मुश्शाक विमान खरीदेगा नाइजीरिया
2 ‘सीरिया-आईएस लिंक पर ‘झूठ’ फैला रहे हैं डोनाल्ड ट्रम्प’
3 विकिलीक्स ने अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के निजी ई-मेल सार्वजनिक किए
ये पढ़ा क्या?
X