ताज़ा खबर
 

…तो पाकिस्तान की दरगाह में 19 लोगों को किसने उतारा मौत के घाट! 

पुलिस ने दरगाह की देखरेख करने वालों वहीद और यूसुफ सहित पांच लोगों को हिरासत में लिया है।

Author April 2, 2017 9:58 AM
चार घायल लोगों को अस्पताल भेजा गया है जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में एक दरगाह पर एक परिवार के छह लोगों सहित 19 लोग मारे गए हैं। अलग-अलग अधिकारियों ने घटना का अलग-अलग कारण बताया है। उपायुक्त लियाकत अली चाठा के अनुसार घटना शनिवार आधी रात के समय लाहौर से करीब 200 किलोमीटर दूर सरगोधा जिले के चक-95 गांव में मुहम्मद अली गुज्जर की दरगाह पर हुई। चाठा ने कहा कि ऐसा लगता है कि दरगाह की देखरेख करने वालों ने जायरीनों को पहले कोई नशीली दवा दी और फिर छुरा घोंपा और डंडे से पीटा जिससे उनकी मौत हो गई। उन्होंने कहा, ‘‘हमने दरगाह की देखरेख करने वालों वहीद और यूसुफ सहित पांच लोगों को हिरासत में लिया है।’’

चार घायल लोगों को अस्पताल भेजा गया है जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। चाठा ने कहा कि लोग इस दरगाह पर अपने पाप ‘‘धोने’’ के लिए आते हैं और दरगाह की देखरेख करने वालों को खुद की पिटाई करने की इजाजत देते हैं । ‘‘लेकिन इस मामले में पाप धोने की प्रक्रिया के दौरान जायरीनों को पहले नशीली दवा दी गई और छुरा घोंपा गया तथा डंडों से पिटाई की गई।’’

HOT DEALS
  • I Kall K3 Golden 4G Android Mobile Smartphone Free accessories
    ₹ 3999 MRP ₹ 5999 -33%
    ₹0 Cashback
  • Lenovo K8 Plus 32GB Venom Black
    ₹ 8925 MRP ₹ 11999 -26%
    ₹446 Cashback

वहीं, वरिष्ठ पुलिस अधिकारी बिलाल इफ्तिखार के अनुसार एक घायल व्यक्ति ने बताया कि दरगाह के कब्जे को लेकर देखरेख करने वालों के दो गुटों में संघर्ष हो गया। पुलिस अधिकारी ने कहा कि इस घटना में एक परिवार के छह सदस्यों सहित दोनों गुटों के 19 लोग मारे गए हैं। इफ्तिखार ने कहा, ‘‘हमने इस घटना की सभी पहलुओं से जांच शुरू कर दी है।” घटना के तुरंत बाद दरगाह पर भारी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात कर दिए गए और आसपास के इलाकों में तलाशी अभियान छेड़ दिया गया । सरगोधा में अस्पतालों में आपातकलीन स्थिति की घोषणा कर दी गई है ।

पाकिस्तान के साथ मिलकर बैलिस्टिक मिसाइल्स, एयरक्राफ्ट्स बनाएगा चीन, देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App