pakistan hindu woman killed after torture people start agitation - पाकिस्‍तान में हिंदू महिला की टॉर्चर के बाद हत्‍या, लाश बैग में डाल सड़क किनारे फेंकी, बवाल - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तान में हिंदू महिला की टॉर्चर के बाद हत्‍या, लाश बैग में डाल सड़क किनारे फेंकी, बवाल

लोगों ने महिला की मौत के विरोध में स्थानीय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरु कर दी। इस पर पुलिस ने भीड़ को लाठीचार्ज कर खदेड़ दिया।

सिंध प्रांत की घटना। (image source-Twitter/naila inayat)

पाकिस्तान से आए दिन अल्पसंख्यकों पर प्रताड़ना की खबरें आती रहती हैं। अब एक बार फिर ऐसा मामला सामने आया है। जहां एक हिंदू महिला को अज्ञात लोगों ने टॉर्चर करने के बाद उसकी हत्या कर दी। वहीं महिला की हत्या के बाद स्थानीय लोगों का गुस्सा भड़क गया और लोग सड़कों पर उतर आए। पाकिस्तान की एक पत्रकार ने इस घटना को लेकर ट्वीट किया है। ट्वीट में लिखा है कि ‘यह बर्मा नहीं है, ना फलस्तीन और ना ही कश्मीर। सिंध के मोरो शहर में एक हिंदू महिला मेवी भागरी की टॉर्चर के बाद हत्या कर दी गई। महिला की बॉडी एक बोरे में रखकर सड़क किनारे फेंक दी गई। लोगों ने जब प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया तो पुलिस ने उन पर लाठी चार्ज कर दी।’

बता दें कि जैसे ही स्थानीय लोगों को घटना के बारे में पता चला तो लोग सड़कों पर उतर आए और ट्रैफिक रोक दिया। इसके बाद लोगों ने महिला की मौत के विरोध में स्थानीय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरु कर दी। इस पर पुलिस ने भीड़ को लाठीचार्ज कर खदेड़ दिया। फिलहाल पुलिस महिला की हत्या के मामले की जांच कर रही है। बता दें कि इससे पहले बीते जून में भी एक हिंदू महिला की इसी तरह से पाकिस्तान के ब्लूचिस्तान प्रांत में हत्या कर दी गई थी। मृतक महिला के भाई ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में बताया कि इलाके के कुछ प्रभावशाली लोगों ने उसकी बहन की बिना किसी कारण के हत्या कर दी।

पीड़िता के भाई की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। बता दें कि पाकिस्तान में आए दिन हिंदूओं समेत कई अल्पसंख्यक समुदाय के लोग निशाना बनते रहते हैं। बीते मई माह में भी ब्लूचिस्तान प्रांत में एक हिंदू व्यवसायी और उसके बेटे की अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। ब्लूचिस्तान प्रांत में जारी अशांत माहौल के कारण वहां रह रहे व्यवसायी समुदाय में भय का माहौल है, खासकर अल्पसंख्यकों में वहां काफी डर का माहौल है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App