ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान में परमाणु हथियारों का बढ़ता जखीरा अमेरिका के लिए ‘गंभीर खतरा’: विशेषज्ञ

अमेरिकी थिंक टैंक के विशेषज्ञों ने कहा कि पाकिस्तान भारत की ओर से मिलने वाली सैन्य चुनौती के बदले में परमाणु हथियारों पर जोर दे रहा है।

Author वॉशिंगटन | September 9, 2016 2:27 PM
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (फाइल फोटो)

एक अमेरिकी थिंक टैंक के विशेषज्ञों ने कहा है कि पाकिस्तान के पास फिलहाल 120 परमाणु हथियार मौजूद हैं और उसका परमाणु हथियारों का बढ़ता जखीरा अमेरिकी हितों के लिए ‘गंभीर खतरा’ है। कार्नेगी एंडोमेंट फॉर इंटरनेशनल पीस में परमाणु नीति कार्यक्रम के सह-निदेशक टोबी डाल्टन ने पाकिस्तान पर कांग्रेशनल सुनवाई के दौरान कल सीनेट की विदेशी संबंध समिति के सदस्यों को बताया, ‘पाकिस्तान की बढ़ती परमाणु क्षमता और खौफ पैदा करने का उसका व्यापक होता इरादा अमेरिका के उन हितों के लिए गंभीर चुनौती है जिसके तहत अमेरिका परमाणु विस्फोट को रोकना चाहता है और परमाणु हथियारों और सामग्री की मजबूत सुरक्षा बनाए रखना चाहता है।’

डाल्टन का कहना है कि पाकिस्तान अपने शस्त्रागार में हर साल 20 परमाणु हथियार जोड़ कर इसका विस्तार करने में सक्षम है और बीते दशक में उसने परमाणु हथियारों के लिए परमाणु सामग्री के उत्पादन में विशेषतौर पर विस्तार किया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत की ओर से मिलने वाली सैन्य चुनौती के बदले में परमाणु हथियारों पर जोर दे रहा है। बहरहाल, पाकिस्तान में परमाणु शस्त्रागार की जिस तरह से सुरक्षा की जा रही है उसकी उन्होंने प्रशंसा की। डाल्टन ने कहा, ‘सच कहें तो पाकिस्तान को परमाणु सुरक्षा तरीकों के लिए पर्याप्त श्रेय नहीं मिला है। उसकी सुरक्षा अच्छी है लेकिन पूरी तरह से अभेद्य नहीं है। उसने एक्यू खान मामले से सीख ली है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App