ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तानी अखबार ने छापी एलओसी पर तैनात अपने सैनिकों की ‘आंखोंदेखी’, बताई यह कहानी

पाकिस्तानी अखबार ने पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों के हवाले से दावा किया कि जवाबी कार्रवाई के बाद भारतीय सैनिक भागने लगे।

एलओसी पर हुई झड़प में मारे गए पाकिस्तानी सैनिक के शव के साथ पाकिस्तानी सेना के जवान। (REUTERS/Fayyaz Hussain)

भारतीय सेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के आतंकी ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक करके कई आतंकियों को मार गिराया गया है। लेकिन पाकिस्तान ने भारत द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने से इनकार किया है। एक पाकिस्तानी अखबार ने नियंत्रण रेखा के करीब तैनात पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों से हुई कथित बातचीत के आधार पर भारत के दावों पर सवाल खड़ा किया है। पाकिस्तान का दावा है कि उसने भारतीय सैनिकों की कोशिश को नाकाम कर दिया। पाकिस्तानी अखबार द नेशन में प्रकाशित एक रिपोर्ट में एक पाकिस्तानी सैन्य अधिकारी ने कहा है, “हमला मेरी कंपनी पर हुआ। अल्लाह के करम के हमने माकूल जवाब दिया। और उन्हें उनकी सरहद में वापस धकेल दिया। उनके छह लोगों की मारे जाने की पुष्टि हुई है। हमने एक बहादुर सैनिक खोया।”

एक अन्य पाकिस्तानी सैन्य अधिकारी ने अखबार से कहा कि भारत का सर्जिकल स्ट्राइक का दावा बेबुनियाद है। उस पाकिस्तानी सैन्य अधिकारी ने अखबार से कहा , “हिम्मत नहीं कर सकते। एलओसी पर जिस तरह की झड़पें होती हैं उनके हिसाब से ये तो युद्ध विराम का ढंग से उल्लंघन भी नहीं था। हम उनका कई दिनों से इंतजार कर रहे हैं।” पाकिस्तानी सैन्य अधिकारी ने पाकिस्तान अखबार से बातचीत में दावा किया कि भारत ने नियंत्रण रेखा पर चार जगहों पर घुसने की कोशिश की थी। इस पाक अधिकारी ने अखबार से कहा, “मेरे इलाके में हमने उन्हें तभी देख लिया जब वो उनके इलाके में ही 1500 मीटर अंदर थे। हमने उनपर धावा बोल दिया तो वो भाग गए। दूसरे सेक्टरों में भी उन्हें पहले ही देख लिया गया था। इसलिए वो बस कुछ देर से थोड़ी गोलीबारी कर पाए। एक जगह पर उन्हें ठीक एलओसी पर रोक लिया गया तो वो सियारों की तरह भाग गए। हमारे सैनिक मोर्टार हमले में मारे गए।”

पाकिस्तानी अखबार ने एक और पाकिस्तानी सैन्य अधिकारी का बयान छापा है जिसमें उसने कहा है, “मैं छंब में था। उन्होंने कुछ नहीं किया। शुरू में उन्होंने एलओसी पार करने की कोशिश की लेकिन हमने उन्हें तभी देख लिया जब वो उनकी सीमा के अंदर थे। हमने उन्हें वहीं रोक लिया। वो कई शवों को एलओसी पर छोड़कर भाग गए। हमारी तरफ को दो जवान मोर्टार हमले में शहीद हुए। कोई भारतीय हमारी जमीन पर कदम रखने की हिम्मत नहीं कर सकता।” एक अन्य पाकिस्तानी सैन्य अधिकारी ने अखबार से कहा, “एलओसी पर तत्ता पानी में हमने उनके आठ जवानों के शव छोड़ दिए हैं। वो उन्हें वहां से उठा सकते हैं। उनका दावा पूरी तरह गलत है।”

Read Also: LOC में भारत की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद दिल्ली के रेस्टोरेंट ने दिया खाने पर 20 फीसदी की छूट का ऑफर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App