ताज़ा खबर
 

चंदू चौहान को लेकर केंद्रीय मंत्री के दावे को पाकिस्‍तान ने झुठलाया, कहा- गिरफ्तारी ही नहीं मानी फिर छोड़ें कैसे

मंत्री ने कहा था कि हम डीजीएमओ (सैन्य अभियानों के महानिदेशक) स्तर पर उनकी रिहाई सुनिश्चित करने के लिए प्रयास कर रहे हैं।

चंदू बाबूलाल चव्हाण। (फाइल फोटो)

पाकिस्‍तान ने भारतीय सैनिक चंदू चौहान की गिरफ्तारी से इनकार किया है। गुरुवार को केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भाम्बरे ने कहा था कि पाकिस्तानी अधिकारियों ने भारतीय सैनिक चंदू चव्हाण को रिहा करने को लेकर प्रतिबद्धता जताई है, जिन्होंने अनजाने में पिछले साल सीमा पार कर दी थी। इस पर न्‍यूज18 ने पाकिस्‍तानी सरकार के सूत्रों के हवाले से लिखा है कि पड़ोसी मुल्‍क ने इस पूरी रिपोर्ट का खंडन किया है। पाकिस्‍तानी सूत्र ने कहा, ”हमने चंदू चौहान की गिरफ्तारी नहीं मानी है, इस रिपोर्ट का पाकिस्‍तानी मीडिया में कोई जिक्र नहीं है। उसकी रिहाई के बारे में कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं है। भारत के रक्षा राज्‍य मंत्री ने क्‍या कहा है, इस बारे में कोई जानकारी नहीं।” भाम्‍बरे ने दक्षिण मुंबई में मझगांव डॉक लिमिटेड (एमडीएल) में स्कॉर्पियन वर्ग की दूसरी पनडुब्बी खानडेरी का जलावतरण करने के बाद भाम्बरे ने कहा कि उन्होंने (पाकिस्तान) माना है कि चंदू चौहान जीवित हैं और वे जांच के बाद उन्हें रिहा कर देंगे। जांच पूरी होने के करीब है।

मंत्री ने कहा था कि हम डीजीएमओ (सैन्य अभियानों के महानिदेशक) स्तर पर उनकी रिहाई सुनिश्चित करने के लिए प्रयास कर रहे हैं। अबतक डीजीएमओ ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष के साथ कम से कम 15-20 बार बातचीत की है। उन्होंने कहा कि दो दिन पहले ही पिछली बार इस बारे में बातचीत की गई है। उन्होंने (पाकिस्तान) कहा है कि जांच खत्म हो रही है और चंदू चौहान को जल्द रिहा किया जाएगा।

संयोग से चौहान उसी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के रहने वाले हैं जहां से भाम्बरे सांसद है। मंत्री ने कहा, ‘‘ मैं उनके परिवार के साथ नियमित संपर्क में हूं।’’ पिछले साल 30 सितंबर को चौहान अनजाने में नियंत्रण रेखा के दूसरी तरफ चले गए थे।

BSF ने जारी किया वीडियो, जवाबी कार्रवाई में तबाह किया पाकिस्‍तानी बंकर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App