ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान के इस्लामाबाद में पहले हिंदू मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ, अदालत ने निर्माण को चुनौती देने वाली याचिकाएं की खारिज

योजना के मुताबिक राजधानी के एच-9 प्रशासनिक संभाग में 20,000 वर्गफुट के भूखंड पर कृष्ण मंदिर बनना है। मंदिर का भूमि पूजन हाल में मानवाधिकार मामलों पर संसदीय सचिव लाल चंद माल्ही ने किया था।

Author नई दिल्ली | July 8, 2020 6:40 PM
Pakistan, pakistan court, hindu templeइस्लामाबाद में मंदिर का भूमि पूजन करते मानवाधिकार मामलों पर संसदीय सचिव लाल चंद माल्ही। (फोटोः ट्विटर/@LALMALHI)

पाकिस्तान के इस्लामाबाद में पहले हिंदू मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। पाकिस्तानी अदालत ने एक जैसी उन तीन याचिकाओं को खारिज कर दिया जिनमें देश की राजधानी में पहले हिंदू मंदिर के निर्माण को चुनौती दी गई थी।

इस्लामाबाद उच्च न्यायालय की एकल पीठ में न्यायमूर्ति आमिर फारूक ने मंगलवार को यह फैसला दिया। उन्होंने यह साफ कर दिया कि ‘इंस्टीट्यूट ऑफ हिंदू पंचायत’ (आईएचपी) पर कोई रोक नहीं है। आईएचपी को मंदिर निर्माण के लिए भूमि आवंटित की गई है। उसे अपने पैसों से निर्माण करना है।

इससे पहले, सोमवार को अदालत ने मामले पर फैसला सुरक्षित रख लिया था। योजना के मुताबिक राजधानी के एच-9 प्रशासनिक संभाग में 20,000 वर्गफुट के भूखंड पर कृष्ण मंदिर बनना है। मंदिर का भूमि पूजन हाल में मानवाधिकार मामलों पर संसदीय सचिव लाल चंद माल्ही ने किया था।

इमरान खान की सरकार के सहयोगी दल पाकिस्तान मुस्लिम लीग-कायद ने मंदिर निर्माण को ‘‘इस्लाम की भावना के खिलाफ’’ बताते हुए, इसका विरोध किया है। याचिकाकर्ताओं ने मंदिर निर्माण तथा राजधानी विकास प्राधिकरण (सीडीए) की ओर से इस्लामाबाद में भूमि आवंटन को निरस्त करने की मांग की।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के मास्टर प्लान में इसका कोई प्रावधान नहीं है। हालांकि अदालत ने इस बात को खारिज कर दिया और कहा कि भूमि उपयोग के बारे में फैसला करने का अधिकार सीडीए का है। सीडीए ने पिछले हफ्ते कानूनी कारणों का हवाला देते हुए भूखंड पर चारदीवारी बनाने का काम रोक दिया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नेपाल: PM केपी शर्मा ओली को बचाने आगे आया चीन, नेपाली राष्ट्रपति और टॉप लीडर्स के साथ चीनी राजदूत की बैठक की खबर
2 WHO से अमेरिका ने तोड़े संबंध, यूएन को दी आधिकारिक जानकारी, कोरोना पर चल रहा थी तकरार
3 चीन के खिलाफ इंटरनेशनल कोर्ट पहुंचा उईगर समूह, मुस्लिमों के नरसंहार का लगाया आरोप
ये पढ़ा क्या?
X