ताज़ा खबर
 

अधेड़ ने शादी के लिए 13 साल की लड़की को अगवा कर कराया धर्म परिवर्तन! मानवाधिकार आयोग ने की इंसाफ की मांग

इस मामले में पुलिस ने सईद अली अजहर के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस ने उसके भाई सईद शारिक अली, सईद मोहसिन अली और एक दोस्त दानिश को गिरफ्तार किया है।

hindu, muslim, marriageतस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। फोटो सोर्स – (Illustration: Manali Ghosh)

पाकिस्तान के कराची में 13 साल की एक लड़की को अगवा कर लिया गया है। नाबालिग लड़की को अगवा करने के बाद उनका धर्म परिवर्तन कराया गया और फिर 44 साल के एक मुस्लिम युवक से उनकी शादी करा दी गई है। अब इस मामले में मानवाधिकार आयोग ने इंसाफ की मांग की है। सिंध हाईकोर्ट ने रविवार को आदेश दिया कि ‘जिस नाबालिग क्रिश्चिन लड़की को अगवा कर उसका धर्म परिवर्तन करा उससे जबरन विवाह किया गया है उसे शेल्टर होम में भेजा जाए।’ इस बात की जानकारी पाकिस्तान के मानवाधिकार मंत्री शिरेन मज़ारी ने दी।

इस मामले में लड़की के पिता ने जो एफआईआर दर्ज कराई थी उसके मुताबिक 13 अक्टूबर को वो औऱ उनकी पत्नी अपने काम के सिलसिले में घर से बाहर गए थे। उनका बेटा स्कूल गया हुआ था। पिता के मुताबिक रेलवे कॉलोनी स्थित उनके घर में उस वक्त उनकी 3 बेटियां मौजूद थीं। लेकिन बाद में उन्हें उनके एक रिश्तेदार का फोन आय़ा कि उनकी एक बेटी घर से लापता है।

पिता के मुताबिक घर पहुंचने के बाद उन्होंने सबसे पहले पड़ोसियों से संपर्क किया। लेकिन उनकी बेटी का कुछ भी पता नहीं चल सका। इस मामले में लड़की के पिता ने Frere police station में अज्ञात लोगों द्वारा उनकी बेटी को किडनैप कर लेने का केस दर्ज कराया।

स्थानीय अखबार ‘Dawn’ से बातचीत करते हुए लड़की के घर के सदस्यों ने बताया कि अली अजहर नाम का एक युवक उनके घर के पास रहता था। लड़की की मां के मुताबिक अली अजहर ने लड़की की उम्र 18 साल बताने के लिए फर्जी कागजात तैयार किेये थे।

Human Rights Focus Pakistan (HRFP) के अध्यक्ष नावेद वॉल्टर ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय खासकर क्रिश्चन और हिंदूओं को टारगेट किया जा रहा है। लड़कियों का अपहरण कर एक ही दिन में उनका धर्म परिवर्तन करा उनकी शादी करा देना यहां आम बात हो गई है।

HRFP की फैक्ट-फाइंडिंग टीम ने खुलासा किया है कि सिंध हाईकोर्ट में यह बात खुलकर सामने आई है कि जो कागजात बनाए गए थे उसमें लड़की की तस्वीर बदली गई थी।

इस मामले में पुलिस ने सईद अली अजहर के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस ने उसके भाई सईद शारिक अली, सईद मोहसिन अली और एक दोस्त दानिश को गिरफ्तार किया है। इन सभी पर अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आऱोप है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अमेरिका में कल मतदान: ताबड़तोड़ बंदूक़ें खरीद रहे लोग, ऑटोमैटिक राइफल लेकर प्रदर्शन
2 US: डोनाल्ड ट्रंप बने COVID-19 फैलाव की वजह? राष्ट्रपति की रैलियों के कारण बढ़े 30 हजार केस, 700 मौतें
3 कनाडा में फ्रांस जैसा हमला, मध्यकालीन कपड़े पहनकर निकले शख्स ने दो की चाकू मारकर ली जान, 5 को घायल किया
ये पढ़ा क्या?
X