ताज़ा खबर
 

मुंबई हमले पर नवाज शरीफ ने द‍िया ऐया बयान क‍ि पाकस्तिान में मचा कोहराम, ”ब्‍लैक आउट” क‍िए गए पीएम अब्‍बासी!

पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के 26/11 मुंबई हमलों पर कबूलनामे के बाद पड़ोसी मुल्क में सत्ता से लेकर सेना तक में हड़कंप मचा है। एक इंटरव्यू में नवाज शरीफ ने मुंबई हमलों के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार कबूलते हुए मामले पर फैसले में हो रही देरी पर भी सवाल उठाया था।

पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के 26/11 मुंबई हमलों पर कबूलनामे के बाद पड़ोसी मुल्क में सत्ता से लेकर सेना तक में हड़कंप मचा है। पाकिस्तानी अखबार डॉन को 12 मई को दिए एक इंटरव्यू में नवाज शरीफ ने मुंबई हमलों के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार कबूलते हुए मामले पर फैसले में हो रही देरी पर भी सवाल उठाया था। नवाज शरीफ ने कहा था कि पाकिस्तान में आतंकवादी संगठन सक्रिय है, उनका मुल्क से लेना-देना नहीं है, क्या हमें उन्हें सीमा पार जाकर मुंबई में 150 लोगों को मारने देना चाहिए? हम इसकी सुनवाई पूरी क्यों नहीं कर सकते हैं? इंटरव्यू में नवाज शरीफ ने कहा था कि चाहे कुछ भी हो जाए, वह सच सामने लाकर रहेंगे। डॉन की खबर के मुताबिक नवाज के इस कबूलनामे के बाद पाकिस्तान के मौजूदा प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी की अध्यक्षता में राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (एनएससी) की बैठक हुई। इस बैठक में पाकिस्तानी सेना के अधिकारी भी शामिल होते हैं। बैठक के बाद में अब्बासी ने प्रेस कांफ्रेंस की। अब्बासी ने भारतीय मीडिया पर आरोप मढ़ा कि उसने नवाज शरीफ के बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया है, जिस पर पाकिस्तानियों को ध्यान देने की जरूरत नहीं है।

डॉन न्यूज टीवी के मुताबिक अब्बासी ने नवाज शरीफ की उस बात को खारिज किया जिसमें मुंबई हमलों की योजना पाकिस्तान में बनाने की बात कही गई थी। एनएससी की बैठक में अब्बासी ने कहा- ”नवाज शरीफ ने बताया कि मुंबई हमलों की योजना पाकिस्तान में बनाए जाने की बात न तो उन्होंने कही और न ही कही जा सकती है।” अब्बासी ने कहा कि भारतीय मीडिया मुद्दो को अलग रंग दे रही है। डॉन के मुताबिक एनएससी ने नवाज के बयान की निंदा नहीं की, लेकिन साक्षात्कार की रिपोर्टिंग को गलत ठहराया।

डॉन की खबर के अनुसार अब्बासी की अध्यक्षता में एनएससी की बैठक के बाद हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस का प्रसारण करने में किसी भी चैनल ने दिलचस्पी नहीं दिखाई। समां टीवी ने दावा किया कि उसकी वेबसाइट पर इसे चलाने के लिए दबाव बनाया गया। बता दें बयान पर हड़कंप मचने के बाद नवाज शरीफ के प्रवक्ता ने मीडिया से कहा था कि ”शुरू में भारतीय मीडिया ने नवाज शरीफ के बयान की गलत व्याख्या की, दुर्भाग्य से बयान के सभी तथ्यों को जाने बगैर पाकिस्तान के इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया के एक वर्ग ने भी जानबूझकर या अनजाने में ना सिर्फ इसकी पुष्टि की बल्कि भारतीय मीडिया के दुष्प्रचार को बल दिया।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App