ताज़ा खबर
 

अमेर‍िका से बोले पाक‍िस्‍तानी सेना प्रमुख- हमें आपसे मदद नहीं चाह‍िए, पर इज्‍जत दीज‍िए

डोनाल्ड ट्रंप ने नई अफगानिस्तान और दक्षिण एशिया नीति की घोषणा करते हुए पाकिस्तान पर हमला बोला था और कहा था कि पाकिस्तान अराजक तत्वों के लिए एक अभ्यारण्य की तरह बन गया है।

पाकिस्तानी सेना के प्रमुख कमर जावेद बाजवा। (Source: AP)

पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने इस्लामाबाद में आज (24 अगस्त को) अमेरिकी राजदूत को खरी-खोटी सुनाई है। बाजवा ने कहा कि हमें अमेरिका से कोई आर्थिक मदद नहीं चाहिए लेकिन वॉशिंगटन को चाहिए कि वो हमें इज्जत करे। बाजवा का ये बयान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा पाकिस्तान में आतंकियों का पनाह ना देने की नसीहत के एक दिन बाद आया है। अमेरिकी राजदूत डेविड हेव ने आज रावलपिंडी स्थित पाकिस्तान आर्मी के हेडक्वार्टर में बाजवा से मुलाकात की और उन्हें अमेरिका की नई अफगानिस्तान और दक्षिण एशिया नीति से उन्हें अवगत कराया।

पाकिस्तानी सेना के मीडिया विंग, इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि आर्मी चीफ बाजवा ने कहा, “हम अमेरिका से किसी भी सामग्री या वित्तीय सहायता की चाहत नहीं रख रहे हैं, लेकिन विश्वास, समझ और हमारे योगदान को अमेरिका स्वीकृति प्रदान करे।” पाकिस्तानी सेना के बयान में कहा गया है कि पाकिस्तानी सेनाध्यक्ष ने अमेरिका को बताया कि अफगानिस्तान में शांति बहाली की दिशा में पाकिस्तान ने भी अहम भूमिका निभाई है।

इसके जवाब में अमेरिकी राजदूत ने भी बाजवा को बताया कि अमेरिका आतंक के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान की भूमिका की सराहना करता है और अफगानिस्तान समस्या के निराकरण की दिशा में पाकिस्तान से आगे भी सहयोग की अपेक्षा रखता है। इससे पहले अमेरिकी राजदूत ने पाकिस्तानी विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ से भी मुलाकात की और उन्हें भी अमेरिका की नई दक्षिण एशिया नीति से वाकिफ कराया। इस दौरान पाक विदेश मंत्री ने भरोसा दिलाया कि पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर आतंकवाद के खात्मे के लिए काम करता रहेगा।

बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कल नई अफगानिस्तान और दक्षिण एशिया नीति की घोषणा करते हुए पाकिस्तान पर हमला बोला था और कहा था कि पाकिस्तान अराजक तत्वों के लिए एक अभ्यारण्य की तरह बन गया है। अमेरिका ने अफगानिस्तान में सैन्य अभियानों और सेना की तैनाती में भारतीय सहयोग और साझीदारी का एलान किया है। ट्रंप ने कहा था, “अब हम आतंकवादी संगठनों के लिए पाकिस्तान के सुरक्षित आश्रयों के बारे में चुप नहीं रह सकते हैं।”

Next Stories
1 एडवाइजरी में चीन की हताशा-‘भारत की बीमारियों, हादसों और आपदाओं से बचकर रहें’
2 वीडियो: इस गाने पर सड़क पर डांस कर रहा था लड़का, पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया
3 अमेरिका में ट्रंप समर्थकों ने भारतीय मूल के सीईओ के खिलाफ नस्लीय भाषा का इस्तेमाल किया
ये पढ़ा क्या ?
X