ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान के पेशावर में आत्मघाती बम धमाका, एआईजी और गनमैन की मौत

पुलिस ने बताया कि अशरफ नूर जब काम के सिलसिले में रास्ते में थे तभी उनका वाहन हमले की चपेट में आ गया।

Author पेशावर | November 24, 2017 2:03 PM
आत्मघाती बम हमलावर ने पुलिस के काफिले को निशाना बनाया था। (Source: Google Maps)

पाकिस्तान के अशांत पख्तुनख्वा प्रांत की राजधानी पेशावर शहर में शुक्रवार को एक आत्मघाती बम हमलावर ने अपनी मोटरसाइकिल एक वाहन में टक्कर मार दी जिससे पाकिस्तान के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी और उनके गनमैन की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि विस्फोट में अतिरिक्त महानिरीक्षक (एआईजी) मुख्यालय के अशरफ नूर और उनके गनमैन की मौत हो गई और वाहन की सुरक्षा में साथ जा रहे छह पुलिसकर्मी भी घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि अशरफ नूर जब काम के सिलसिले में रास्ते में थे तभी उनका वाहन हमले की चपेट में आ गया। विस्फोट के बाद वाहन इसकी चपेट में आ गया और इलाके से धुएं का विशाल गुबार उठता देखा जा सकता था।

विस्फोट इतना शक्तिशाली था कि वहां से गुजर रहे वाहनों की खिड़कियों के शीशे टूट गए और पास के पेड़ों में आग लग गई। ‘डॉन न्यूज’ ने कैपिटल सिटी पुलिस आॅफिसर (सीसीपीओ) ताहिर खान के हवाले से बताया कि मोटरसाइकिल पर सवार आत्मघाती बम हमलावर ने पुलिस के काफिले को निशाना बनाया। यह विस्फोट एक आत्मघाती हमला प्रतीत होता है। सीसीपीओ ने एआईजी की मौत की पुष्टि की और कहा कि कम से कम छह पुलिसकर्मी घायल हो गए तथा उन्हें हयाताबाद मेडिकल कॉम्प्लेक्स में भर्ती कराया गया।

HOT DEALS
  • Micromax Dual 4 E4816 Grey
    ₹ 11978 MRP ₹ 19999 -40%
    ₹1198 Cashback
  • Moto Z2 Play 64 GB Fine Gold
    ₹ 15869 MRP ₹ 29999 -47%
    ₹2300 Cashback

विस्फोट के बाद सुरक्षा अधिकारियों ने इलाके की घेराबंदी की और आस पास के इलाके में तलाशी अभियान शुरू किया। रिपोर्ट के अनुसार, हमले की तत्काल किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने पेशावर में हुए विस्फोट की कड़ी निंदा की। प्रधानमंत्री ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पुलिस कर्मियों की शहादत की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों की कायरतापूर्ण कार्रवाई हमारी कानून-प्रवर्तन एजेंसियों और देश को डरा नहीं सकतीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App