ताज़ा खबर
 

41 साल के बेरोजगार ने मां-बाप पर केस ठोका, जिंदगी भर के लिए हर्जाना मांग रहा है आक्सफोर्ड ग्रेजुएट

फैज सिद्दीकी के माता पिता दुबई में रहते हैं। फैज के पिता जावेद 71 साल के हैं और उनकी मां रक्षंदा 69 साल की है। इतने उम्रदराज होने के बावजूद भी वे फैज को हर महीने करीब 1000 पाउंड भेजते हैं।

Court, faiz siddiki, International Newsतस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

बढ़ती बेरोजगारी से न सिर्फ देशभर के युवा परेशान हैं बल्कि विदेशों में पढ़े लिखे लोग भी इसकी चपेट में आ गए हैं। बेरोजगारी से जुड़ा एक काफी पेचीदा मामला सामने आया है। ऑक्सफ़ोर्ड जैसी विश्व विख्यात यूनिवर्सिटी से पढ़े एक 41 साल के शख्स ने बेरोजगारी से तंग आकर अपने मां-बाप पर ही केस ठोक दिया है। 41 साल का यह बेरोजगार जिंदगी भर के लिए हर्जाने की मांग कर रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फैज सिद्दीकी नाम के इस शख्स ने ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी से पढाई की है। साथ ही वह वकालत की ट्रेनिंग भी ले चुका है। इसके बावजूद भी वह बेरोजगार है। फैज का कहना है कि उसे आर्थिक मदद की जरूरत है। फैज ने इसके पीछे का कारण दिया है कि उसका स्वास्थ्य बचपन से ही ख़राब है। जिसकी वजह से उसकी पढाई-लिखाई और जिंदगी काफी प्रभावित हुई है। साथ ही फैज का यह भी कहना है कि अगर उसके मां बाप उसकी मदद नहीं करेंगे तो उसके मानवाधिकार का उल्लंघन होगा।

फैज सिद्दीकी के माता पिता दुबई में रहते हैं। फैज के पिता जावेद 71 साल के हैं और उनकी मां रक्षंदा 69 साल की है। इतने उम्रदराज होने के बावजूद भी वे फैज को हर महीने करीब 1000 पाउंड भेजते हैं। इतना ही नहीं वे फैज के दूसरे खर्चे भी उठाते हैं जिसमें उसके कई दूसरे बिल भी शामिल होते हैं। फैज के माता पिता के अनुसार उनका एक फ्लैट लंदन के हाइडी पार्क इलाके में है। जिसमें फैज पिछले बीस सालों से रह रहा है। फैज के हाइडी पार्क स्थित फ़्लैट की कीमत 1 मिलियन पाउंड्स से भी ज्यादा है।

अपने बेटे की मांगों से रक्षंदा और जावेद अब परेशान हो चुके हैं। फैज के माता पिता के वकील जस्टिन वारशॉ के अनुसार वे पिछले काफी सालों से फैज की ऊलजलूल मांगों को पूरा कर रहे हैं। लेकिन वे परेशान हो चुके हैं और आगे ऐसा नहीं करना चाहते हैं। बकौल फैज, वह अपने सभी खर्चे के लिए माता पिता पर ही निर्भर है।

हालांकि फैज सिद्दीकी नाम के इस शख्स ने पहली बार कोई अजीबोगरीब केस नहीं किया है। इससे पहले वह प्रसिद्ध यूनिवर्सिटी ऑक्सफोर्ड पर भी केस कर चुका है। फैज ने कोर्ट में इस बात को लेकर केस किया था कि ऑक्सफ़ोर्ड की पढाई का स्तर ठीक नहीं है जिसके चलते उसे अमेरिकी लॉ कॉलेज में एडमिशन नहीं मिल पाया। फैज ने ऑक्सफ़ोर्ड से हर्जाने के रूप में 1 मिलियन पाउंड्स की राशि मांगी थी. लेकिन कोर्ट ने फैज के केस को ही ख़ारिज कर दिया था। 

Next Stories
1 किसान आंदोलन पर ब्रिटिश सांसदों की चर्चा पर भारत नाराज, कहा- बिना ठोस आधार के झूठे दावे किए गए
2 कोरोना टीका के सारे डोज ले चुके लोग एक जगह बिना मास्क और पास-पास रह सकते हैं- सीडीसी
3 क्या है मैत्री सेतु, जिसका PM नरेंद्र मोदी ने किया उद्घाटन? समझें- भारत के लिए कितनी रखता है अहमियत
आज का राशिफल
X