ताज़ा खबर
 

प्रोफेसर राकेश जैन को नेशनल मेडल ऑफ साइंस से सम्मानित करेंगे बराक ओबामा

65 साल के प्रोफेसर राकेश जैन ने 1972 में आईआईटी कानुपर से केमिकल इंजीनियरिंग में बी टेक की डिग्री ली थी।

Author वाशिंगटन | May 17, 2016 2:43 PM
प्रोफेसर राकेश हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के मैसाचुसेट्स जनरल हॉस्पिटल में ट्यूमर बायोलोजी के प्रोफेसर हैं। (फोटो : University of Buffalo)

अमेरिका में भारतीय मूल के 65 वर्षीय अमेरिकी वैज्ञानिक प्रोफेसर राकेश के. जैन को अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ‘नेशनल मेडल ऑफ साइसं’ से सम्मानित करने वाले हैं। 19 मई को मिलने वाले इस पुरस्कार में 16 और लोग भी शामिल हैं।

इनमें से कुछ को नेशनल मेडल ऑफ साइंस और कुछ को नेशनल मेडल ऑफ टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन मिलेगा। मेडल ऑ साइंस का यह सालाना पुरस्कार विज्ञान, इंजीनियरिंग और गणित के क्षेत्र में अभूतपूर्व योगदान देने वाले व्यक्तियों को प्रदान किया जाता है।

वहीं, नेशनल मेडल ऑफ टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन अमेरिका की प्रतिस्पर्धी एवं गुणवत्तापूर्ण जीवनशैली में योगदान देने वालों और देश की तकनीकी कार्यक्षमता को मजबूती प्रदान करने वालों को सम्मानित करता है।

प्रोफेसर राकेश हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के मैसाचुसेट्स जनरल हॉस्पिटल में ट्यूमर बायोलोजी के प्रोफेसर हैं। आईआईटी कानपुर के छात्र रहे जैन को ट्यूमर बायोलोजी पर कार्य खासकर रसोली रक्त वाहिकाओं के बीच संबंध तथा कीमाथेरेपी एवं विकिरण उपचार के प्रभावों में सुधार पर अनुसंधान के लिए कई पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है। उन्होंने 1972 में आईआईटी कानुपर में केमिकल इंजीनियरिंग में बी टेक की डिग्री ली थी।

व्हाइट हाउस की तरफ से कल बताया गया कि पहले यह पुरस्कार समारोह 22 जनवरी को तय था लेकिन घातक बर्फीली आंधी की वजह से इसे टालना पड़ा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App