ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तान भी जा रहा नरेंद्र मोदी की राह, 5000 रुपये के नोट को बंद करने की मांग का प्रस्‍ताव पास

पाकिस्‍तान मुस्लिम लीग(पीएमएल) के सीनेटर उस्‍मान सैफ उल्‍लाह खान ने 5000 रुपये के नोटों को बंद करने का प्रस्‍ताव रखा था जिसे सांसदों ने बहुमत से पास कर दिया।

pakistan note ban, pakistan demonetisation, 5000 rupees note pakistan, pakistan Rs 5000 note, pakistan note withdrawal, pakistan newsसीनेट ने 5000 रुपये के नोटों को बंद करने की मांग का प्रस्‍ताव पास कर दिया।

पाकिस्‍तान में भी बड़े नोट बंद करने के प्रयास किए जा रहे हैं। 19 दिसंबर को सीनेट ने 5000 रुपये के नोटों को बंद करने की मांग का प्रस्‍ताव पास कर दिया। बताया गया है कि काले धन पर अंकुश लगाने के लिए इन नोटों को बंद किया जा सकता है। पाकिस्‍तान मुस्लिम लीग(पीएमएल) के सीनेटर उस्‍मान सैफ उल्‍लाह खान ने 5000 रुपये के नोटों को बंद करने का प्रस्‍ताव रखा था जिसे सांसदों ने बहुमत से पास कर दिया। इस प्रस्‍ताव में कहा गया है कि इन नोटों को बंद करने से बैंक खातों का उपयोग बढ़ेगा और गैर दस्‍तावेजी अर्थव्‍यवस्‍था में कटौती होगी। इन नोटों को तीन से पांच साल के भीतर बंद करने का सुझाव दिया गया है। हालांकि सरकार अभी इस मांग पर राजी नहीं दिख रही है। पाकिस्‍तान के कानून मंत्री जाहिद हमीद ने कहा कि नोटों को वापस लेने से बाजार में संकट आ जाएगा और लोग 5000 रुपये के नोट के ना होने पर विदेशी मुद्रा का सहारा लेंगे।

पाकिस्‍तान में कानून मंत्री के अनुसार वर्तमान में 3.4 ट्रिलियन नोट चलन में हैं और इनमें से 1.02 ट्रिलियन नोट 5000 रुपये हैं। पाकिस्‍तान में नोटबंदी का यह प्रयास भारत के फैसले से प्रेरित दिखार्इ देता है। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर को 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों को बंद करने का एलान किया था। उन्‍होंने कालेधन, भ्रष्‍टाचार, जाली नोटों की समस्‍या से लड़ने के लिए यह फैसला किया था। भारत के अलावा दुनिया के अन्‍य देशों में भी हाल ही में नोटबंदी हुई है। वेनेजुएला में 100 बोलिवर का नोट बंद कर दिया गया था। वेनेजुएला इस वक्त 700 प्रतिशत मुद्रास्फिति से जूझ रहा है। हालांकि इसके चलते वहां दंगा फसाद हो गया था जिसके चलते सरकार को फैसला जनवरी तक के लिए टालना पड़ा।

ऑस्ट्रेलिया में भी नोटबंदी की गई है। ऑस्‍ट्रेलिया की सरकार ने अपने यहां के सबसे बड़े नोट यानी 100 डॉलर के नोट को बंद करने का फैसला ले लिया है। ऑस्ट्रेलिया की सरकार के मुताबिक, यह फैसला कालेधन की रोकथाम के लिए लिया गया है। ऑस्ट्रेलिया में 100 डॉलर के 300 मिलियन नोट चलन में हैं। वहां की करेंसी का 92 प्रतिशत हिस्सा 50 और 100 डॉलर के रूप में मौजूद है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 रशियन एंबेसडर को गोली मारने के बाद हमलावर चिल्लाया- अलेप्पो मत भूलना, सीरिया मत भूलना
2 मनोचिकित्सा ने बराक ओबामा को लिखी चिट्ठी- डोनाल्ड ट्रंप की दिमागी हालत की कराएं जांच
3 जर्मनी: क्रिसमस के लिए खरीदारी कर रहे लोगों पर आतंकी हमला, ट्रक से कुचल कर 9 की मौत, 50 घायल