ताज़ा खबर
 

नार्थ कोरिया का साइबर हमला: लीक हुआ अमेरिकी हमले और किम की हत्या का प्लान!

तनाव इस बात से भी बढ़ा हुआ है क्‍योंकि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप लगातार उत्‍तर कोरिया के खिलाफ सैन्‍य कार्रवाई की धमकी दे रहे हैं।

उत्‍तर कोरिया का तानाशाह किम जोंग उन। (Source: Reuters)

उत्‍तर कोरिया के हैकरों ने दक्षिण कोरिया से सैकड़ों गोपनीय सैन्‍य दस्‍तावेज चुरा लिए हैं। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि चोरी हुए दस्‍तावेजों ने युद्ध के समय का विस्‍तृत ऑपरेशन प्‍लान भी शामिल है, जिसमें अमेरिका की भी भागीदारी है। चोसुन इल्बो दैनिक अखबार के अनुसार, सत्‍ताधारी डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद री चोल-ही ने कहा कि हैकर्स ने पिछले सितंबर को दक्षिण कोरिया के सैन्‍य नेटवर्क में सेंध लगाई थी और 235 गीगाबाइट का संवेदनशील डाटा चोरी कर लिया। री ने कहा कि हैकरों ने उत्‍तर कोरिया के साथ जंग की स्थिति में ऑपरेशनल प्‍लान्‍स 5015 चुरा लिए, इसके अलावा किम जोंग उन को ‘मार गिराने’ की प्रक्रिया भी चोरी कर ली गई।
यह रिपोर्ट ऐसे समय में आई है जब दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर है और उत्‍तर कोरिया का हथियार कार्यक्रम पूरी गति से चल रहा है। संयुक्‍त राष्‍ट्र के प्रतिबंधों को धता बताते हुए उत्‍तर कोरिया ने हाल ही में कई परीक्षण किये हैं। किम जोंग उन ने बीते दिनों अपने छठे और अब तक के सबसे ताकतवर परमाणु परीक्षण को अंजाम दिया था।

तनाव इस बात से भी बढ़ा हुआ है क्‍योंकि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप लगातार उत्‍तर कोरिया के खिलाफ सैन्‍य कार्रवाई की धमकी दे रहे हैं। ट्रंप ने कहा है कि उत्तर कोरिया को लेकर अमेरिकी नीति पिछले 25 वर्षो से विफल रही है, जिस वजह से उत्तर कोरिया परमाणु हथियार बनाने में सक्षम हो सका है। ट्रंप ने ट्वीट कर हा, ”हमारा देश पिछले 25 वर्षो से उत्तर कोरिया से निपटने में असफल रहा है। हम उसे अरबों डॉलर दे चुके हैं, लेकिन बदले में कुछ नहीं मिला। हमारी नीति ने काम नहीं किया।”

उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन ने रविवार को कहा था कि उनके देश का परमाणु हथियार कार्यक्रम देश की संप्रभुता की रक्षा करने और अमेरिका से हो रहे खतरे से निपटने का सर्वश्रेष्ठ विकल्प है। ट्रंप ने राष्ट्रपति पद संभालने के बाद उत्तर कोरिया को लेकर कड़ा रुख अपनाया है और उत्तर कोरिया लगातार मिसाइल परीक्षण करता रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App