North Korea Tough After South Korea US military Drils - Jansatta
ताज़ा खबर
 

दक्षिण कोरिया-अमेरिका के युद्ध अभ्यास पर उत्तर कोरिया सख़्त

फरवरी में उत्तर कोरिया ने एक नई इंटरमीडियट मिसाइल का परीक्षण किया जिसके बाद सोल और वॉशिंगटन की चिंता और बढ़ गई।

Author , सोल | March 2, 2017 1:59 PM
उत्‍तर कोरिया के राष्‍ट्रपति किम जोंग उन। (फाइल फोटो)

अमेरिका और दक्षिण कोरिया के युद्ध अभ्यास पर उत्तर कोरिया ने अपने चिरपरिचित तरीके से, कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। बहरहाल, उत्तर कोरिया के हालिया मिसाइल एवं परमाणु परीक्षणों से द्वीप मे तनाव बढ़ा है। सोल और वाशिंगटन के बीच सालाना सैन्य अभ्यास से प्योंगयांग की त्यौरियां हमेशा ही तन जाती हैं और वह इस रक्षात्मक अभ्यास को हमले का अभ्यास कहता है। इस साल यह सैन्य अभ्यास बुधवार (1 मार्च) से शुरू हो गया। उत्तर कोरिया की सेना ने बृहस्पतिवार (2 मार्च) को कहा कि वह अपने परमाणु संसाधन से हमलावरों के परमाणु युद्ध रैकेट को निर्ममता से खत्म कर देगा। सेना ने कोई ब्यौरा न देते हुए कहा कि उसकी यह प्रतिक्रिया सबसे कड़ी होगी। फरवरी में उत्तर कोरिया ने एक नई इंटरमीडियट मिसाइल का परीक्षण किया जिसके बाद सोल और वॉशिंगटन की चिंता और बढ़ गई। फरवरी में एक मध्यवर्ती मिसाइल परीक्षण शुरू किया है। उत्तर कोरिया ने पिछले साल दो परमाणु परीक्षण भी किये थे। दक्षिण कोरिया की सेना का कहना है कि उकसाने पर वह उत्तर कोरिया से ‘सख्ती’ से निपटेगा।

दक्षिण कोरिया और अमेरिका ने संयुक्त रूप से सैन्य अभ्यास शुरू किया

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के अपने सैनिकों को शत्रु बलों के खिलाफ एक ‘जबर्दस्त हमला’ करने के लिए तैयार रहने के अदेश के बीच दक्षिण कोरिया और अमेरिका ने बुधवार (1 मार्च) को अपना वार्षिक सैन्य अभ्यास शुरू किया। इस अभ्यास से हमेशा कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव बढ़ जाता है और इस साल यह अभ्यास उत्तर कोरिया के हालिया बैलास्टिक मिसाइल परीक्षण और मलेशिया में किम के सौतेले भाई की नर्व एजेंट द्वारा हत्या किए जाने बाद हो रहा है। अमेरिकी बल के कोरियाई प्रवक्ता ने बताया कि ‘की रिजाल्व और फोल ईगल’ के नाम से जाने जाने वाला यह संयुक्त अभ्यास विगत वर्ष की भांति ही है। वर्ष 2016 के अभ्यास में तीन लाख दक्षिण कोरियाई और करीब 17 हजार अमेरिकी सैनिक शामिल हुये थे जिसमें अमेरिकी नौसेना के पोत और वायु सेना के जहाज भी शामिल हुए थे। प्रवक्ता ने बताया कि फोल ईगल अभ्यास में 3,600 अमेरिकी सैनिक भाग ले रहे हैं। हालांकि उन्होंने कुल आंकड़ा देने से इंकार कर दिया।

पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को भारत आने का दिया न्योता; ट्रंप ने भारत को ‘सच्चा दोस्त’ बताया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App