ताज़ा खबर
 
  • राजस्थान

    BJP+ 6
    Cong+ 14
    RLM+ 0
    OTH+ 0
  • मध्य प्रदेश

    BJP+ 4
    Cong+ 5
    BSP+ 0
    OTH+ 0
  • छत्तीसगढ़

    BJP+ 2
    Cong+ 2
    JCC+ 0
    OTH+ 0
  • तेलांगना

    BJP+ 0
    TDP-Cong+ 2
    TRS-AIMIM+ 4
    OTH+ 0
  • मिजोरम

    BJP+ 0
    Cong+ 0
    MNF+ 0
    OTH+ 0

* Total Tally Reflects Leads + Wins

प्रक्षेपण के कुछ ही देर बाद उत्तर कोरिया की मिसाइल में विस्फोट, दक्षिण कोरिया ने लगाई मुहर

उत्तर कोरिया ने कुसोंग में गुआम तक के अमेरिकी अड्डों तक को निशाना बनाने में सक्षम मुसुदन मिसाइल का परीक्षण किया था।

Author सोल | October 17, 2016 4:34 PM
उत्‍तरी कोरिया ने हाल ही में कई मिसाइलों का परीक्षण किया है। (Reuters File Photo)

उत्तर कोरिया की मध्यम दूरी की शक्तिशाली मिसाइल के ताजा परीक्षण के असफल रहने का कारण इसके प्रक्षेपण के लगभग तत्काल बाद हुआ विस्फोट है। दक्षिण कोरिया की सेना ने सोमवार (17 अक्टूबर) इस बात की पुष्टि की। उत्तर कोरिया ने कुसोंग में एक एयरबेस के निकट शनिवार (15 अक्टूबर) मध्याह्न के कुछ ही देर बाद मिसाइल गुआम तक के अमेरिकी अड्डों तक को निशाना बनाने में सक्षम मुसुदन मिसाइल का परीक्षण किया। दक्षिण कोरिया और अमेरिकी सैन्य निरीक्षक अमूमन कुछ ही घंटों या यहां तक कि कुछ ही मिनटों बाद इस प्रकार के प्रक्षेपण की खबर दे देते हैं लेकिन शनिवार को किए गए परीक्षण का समाचार घटना के करीब 16 घंटों बाद दिया गया।

दक्षिण कोरिया के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ के एक अधिकारी ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा, ‘उत्तर कोरिया की मिसाइल का प्रक्षेपण इसे प्रक्षेपित किए जाने के कुछ ही देर बार असफल हो गया था इसलिए इसका विश्लेषण करने के लिए काफी समय की आवश्यकता थी।’ रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने प्रक्षेपण के कुछ ही देर बाद, बहुत शुरुआती चरण में मिसाइल में विस्फोट होने की पुष्टि की। मुसुदन का अक्तूबर 2010 में प्योंगयांग में एक सैन्य परेड के दौरान एक स्वदेशी मिसाइल के रूप में अनावरण किया गया था। मुसुदन की सैद्धांतिक रूप से 2500 से 4000 किलोमीटर के बीच मार करने की क्षमता है। इसकी निचली मारक क्षमता में पूरा दक्षिण कोरिया एवं जापान आता है जबकि ऊपरी क्षमता में गुआम के अमेरिकी सैन्य अड्डे शामिल हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App