ताज़ा खबर
 

2500 किलोमीटर से अधिक ऊंचाई पर पहुंची उत्तर कोरिया की बैलेस्टिक मिसाइल जापानी सागर में जाकर गिरी

जापान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि उत्तर कोरिया द्वारा आज दागी गई नई मिसाइल 2500 किलोमीटर से ‘‘बहुत अधिक’’ ऊंचाई पर पहुंची।

जापान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि उत्तर कोरिया द्वारा आज दागी गई नई मिसाइल 2500 किलोमीटर से ‘‘बहुत अधिक’’ ऊंचाई पर पहुंची। (Photo-AP)

जापान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि उत्तर कोरिया द्वारा आज दागी गई नई मिसाइल 2500 किलोमीटर से ‘‘बहुत अधिक’’ ऊंचाई पर पहुंची। विशेषज्ञों का कहना है कि यह मिसाइल अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) की सैद्धांतिक श्रेणी में थी।  मंत्रालय ने एक बयान में कहा, मिसाइल 2500 किलोमीटर से काफी अधिक ऊंचाई पर पहुंची। मिसाइल ने 900 किलोमीटर की दूरी तय की और करीब 40 मिनट उड़ान भरी। यह हमारे देश के विशेष आर्थिक क्षेत्र में जापान सागर में गिरी।’’ मोंटेरी स्थित मिडलबरी इंस्टीट्यूट आॅफ इंटरनेशनल स्टडीज में ईस्ट एशिया नॉनप्रोलिफेरेशन प्रोग्राम के निदेशक जेफ्री लुइस ने कहा, ‘‘यह आईसीबीएम है।

उत्तर कोरिया का कहना है कि उसने अंतरमहाद्वीपीय मारक क्षमता वाली बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। सरकारी कोरियन सेंट्रल टेलीविजन पर एक विशेष घोषणा में परंपरागत पोशाक पहने एक महिला उद्घोषक ने बताया कि हावासोंग-14 मिसाइल के इस परीक्षण पर उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने नजर रखी। उदघोषक ने इस परीक्षण को “मील का एक पत्थर” बताया ।

इस मिसाइल के परीक्षण के बाद मेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया द्वारा बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण किए जाने पर प्रतिक्रियास्वरूप किम जोंग उन की कड़ी आलोचना की। ट्रंप ने किम जोंग उन को चेतावनी देते हुए कहा कि दक्षिण कोरिया और जापान के धैर्य की सीमा समाप्त हो रही है।

ट्रंप ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, उत्तर कोरिया ने एक और मिसाइल परीक्षण किया। क्या यह आदमी अपनी जिंदगी में कुछ अच्छा नहीं कर सकता?”

उन्होंने कहा, “विश्वास करना मुश्किल है कि दक्षिण कोरिया और जापान इसे अधिक समय तक सहन नहीं कर पाएंगे। शायद, चीन जल्द ही उत्तर कोरिया को लेकर कोई बड़ा कदम उठाएगा और इस किस्से को हमेशा के लिए खत्म कर देगा। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने एफे को बताया कि इससे पहले मंगलवार को उत्तर कोरिाय ने एक और बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया, जो पूर्वी सागर में जा गिरी।

उत्तर कोरिया ने सुबह लगभग 9.40 बजे उत्तरी प्योंगान प्रांत से पूर्वी सागर में एक बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया। जापान सरकार के प्रवक्ता योशिहिदी सुगा ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि ऐसा लगता है कि यह मिसाइल जापान के विशेष आर्थिक क्षेत्र में गिरी है।

Next Stories
1 अपनी सीमाओं की इस तरह से हिफाजत करता है इजरायल, जवानों की जगह रोबोट लगाते हैं गश्त
2 नॉर्थ कोरिया के मिसाइल टेस्ट को लेकर डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से कहा- बंद कराए ऐसी ‘बेवकूफियां’
3 उत्तर कोरिया ने दागी बैलिस्टिक मिसाइल, डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- हम उत्तर कोरिया के क्रूर शासन के खतरे का सामना कर रहे हैं
ये पढ़ा क्या?
X