नॉर्थ कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन ने सेना को दिया आदेश- न्‍यूक्‍ल‍ियर हमले के लिए रहो तैयार - Jansatta
ताज़ा खबर
 

नॉर्थ कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन ने सेना को दिया आदेश- न्‍यूक्‍ल‍ियर हमले के लिए रहो तैयार

यूएन सिक्‍युरिटी काउंसिल ने हाल ही में नॉर्थ कोरिया पर कड़े प्रतिबंध लगाने का एलान किया है। कोरिया की ओर से न्‍यूक्‍ल‍ियर और मिसाइल टेस्‍ट करने की वजह से ये कदम उठाया गया है।

Author सियोल | March 4, 2016 1:16 PM
नॉर्थ कोरिया की सरकारी न्‍यूज एजेंसी केसीएनए ने किम के हवाले से बताया, ”हमें अपने परमाणु हथियारों को किसी भी वक्‍त इस्‍तेमाल करने के लिए तैयार रहना होगा।” (Source: AP)

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन ने देश की सेना को आदेश दिया है कि वे न्‍यूक्‍ल‍ियर हथियारों को ‘किसी भी वक्‍त’ इस्‍तेमाल करने के लिए तैयार रखें। जानकार इसे नॉर्थ कोरिया पर यूएन सिक्‍युरिटी काउंसिल की ओर से लगाए गए कई तरह के कड़े प्रतिबंध की प्रतिक्रिया मान रहे हैं।

नॉर्थ कोरिया की सरकारी न्‍यूज एजेंसी केसीएनए ने किम के हवाले से बताया, ”हमें अपने परमाणु हथियारों को किसी भी वक्‍त  इस्‍तेमाल करने के लिए तैयार रहना होगा।” किम ने चेतावनी के लहजे में कहा कि विभाजित कोरियाई प्रायद्वीप के हालात इतने तनावपूर्ण हो गए हैं कि नॉर्थ कोरिया को अपनी सैन्‍य रणनीति में बदलाव करते हुए पहले ही हमले के लिए तैयार होना होगा। हालांकि, कुछ एक्‍सपर्ट्स मानते हैं कि तनावपूर्ण हालात में नॉर्थ कोरिया इस तरह की भड़काऊ बयान देता रहा है और यह सिर्फ जुबानी हमले के अलावा और कुछ नहीं है। नॉर्थ कोरिया के परमाणु हथियारों का छोटा सा जखीरा जरूर है। हालांकि, इन बमों को मिसाइल के जरिए दागा जा सकता है कि नहीं, इस पर जानकारों की राय अलग अलग है।

केसीएनए के मुताबिक, किम ने गुरुवार को ये बयान देश के नए हाई कैलिबर मल्‍ट‍िपल रॉकेट लॉन्‍च के निरीक्षण के वक्‍त दिया। इससे कुछ घंटे पहले ही यूएन सिक्‍युरिटी काउंसिल ने एकमत ने प्रस्‍ताव पास करते हुए नॉर्थ कोरिया के खिलाफ कड़े प्रतिबंधों का एलान किया। ये कदम नॉर्थ की ओर से किए गए न्‍यूक्‍ल‍ियर और मिसाइल टेस्‍ट की वजह से उठाए गए। वहीं, साउथ कोरिया के डिफेंस मिनिस्‍ट्री ने बताया कि नॉर्थ ने गुरुवार को पूर्वी समुद्री तट पर 100 से 150 किमी की रेंज में करीब आधा दर्जन रॉकेट छोड़े।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App