ताज़ा खबर
 

उत्तर कोरिया ने किया चार ICBM मिसाइल का परीक्षण, दक्षिण कोरिया ने जताई आशंका- हो सकता है ये अमेरिका तक मार करने में सक्षम हों

जापान के रक्षा मंत्री बताया कि उत्तर कोरिया द्वारा दागी गयी परीक्षण मिसाइलें जापानी समुद्र तट से 300 किलोमीटर दूर गिरीं थीं।

North Korea, Missile, South Korea, Americaदक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में टीवी पर उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण की न्यूज प्रसारित हो रही है। (REUTERS/Kim Hong-Ji)

उत्तर कोरिया ने सोमवार (छह मार्च) को जापान के उत्तरपश्चिमी तट पर चार मिसाइलें दागी हैं। समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार जापानी अधिकारियों ने इस खबर की पुष्टि की है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका और दक्षिण कोरिया के संयुक्त सैन्य अभ्यास के बाद इस परीक्षण को उत्तर कोरिया द्वारा की जा रही युद्ध के पूर्वाभ्यास के तौर पर देखा जा रहा है। दक्षिण कोरियाई सेना के प्रवक्ता रोह-जाए-चाइओन ने कहा कि उत्तर कोरिया ने ये मिसाइलें दोंगचांग-री क्षेत्र से दागीं हैं जो उत्तरी चीन के नजदीक है।

दक्षिण कोरिया की सेना ने कहा है कि ये मिसाइल अंतर-महाद्वीपीय (आईसीबीएम) हैं और हो सकता है कि ये अमेरिका तक मार करने में सक्षम हों। दक्षिण कोरिया के अनुसार इन मिसाइलों ने औसतन 1000 किलोमीटर की दूरी तय की और 260 किलोमीटर की अधिकतम ऊंचाई तक पहुंची।

जापान के रक्षा मंत्री तोमोमी इनादा ने टोक्यों में मीडिया को बताया कि इनमें से कुछ मिसाइलें जापान के उत्तरी-पश्चिमी समुद्र तट से केवल 300 किलोमीटर दूरी पर गिरी। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने ने कहा कि “उत्तर कोरिया द्वारा दागी गईं मिसाइलें संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के नियमों का खुला उल्लंघन हैं। ये बेहद खतरनाक कार्रवाई है।”

दक्षिण कोरिया के कार्यकारी राष्ट्रपति ह्वांग क्यो-आह्म ने कहा कि इन मिसाइलों को दाग कर उत्तर कोरिया ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय को खुली चुनौती दी। दक्षिण कोरिया ने कहा है कि वो बहुत जल्द अमेरिकी एंटी-मिसाइल रक्षा प्रणाली को तैनात करेगा। हालांकि चीन नहीं चाहता है कि दक्षिण कोरिया ऐसा करे।

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन के अपने सैनिकों को दुश्मनों के खिलाफ एक ‘जबरदस्त हमले’ के लिए तैयार रहने का अदेश दिया था।दक्षिण कोरिया और अमेरिका ने बुधवार (1 मार्च) को अपना वार्षिक सैन्य अभ्यास शुरू किया। इस अभ्यास से हमेशा कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव बढ़ जाता है और इस साल यह अभ्यास उत्तर कोरिया के हालिया बैलास्टिक मिसाइल परीक्षण और मलेशिया में किम के सौतेले भाई की नर्व एजेंट द्वारा हत्या किए जाने बाद हो रहा है।

अमेरिकी बल के कोरियाई प्रवक्ता ने बताया कि ‘की रिजाल्व और फोल ईगल’ के नाम से जाने जाने वाला यह संयुक्त अभ्यास विगत वर्ष की भांति ही है। वर्ष 2016 के अभ्यास में तीन लाख दक्षिण कोरियाई और करीब 17 हजार अमेरिकी सैनिक शामिल हुये थे जिसमें अमेरिकी नौसेना के पोत और वायु सेना के जहाज भी शामिल हुए थे। प्रवक्ता ने बताया कि फोल ईगल अभ्यास में 3,600 अमेरिकी सैनिक भाग ले रहे हैं। हालांकि उन्होंने कुल आंकड़ा देने से इंकार कर दिया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अमेरिकी सांसद ने मुसलमानों से पूछा- क्या आप अपनी पत्नी को पीटते हैं
2 तुम मेरे पति से जरूर शादी करना चाहोगी, फेसबुक पर छाया महिला लेखक का यह लेख
3 भारत की राह पर अमेरिका, फुटबॉलरों को हिदायत – राष्ट्रगान के वक्त आपको खड़ा होना होगा
यह पढ़ा क्या?
X