scorecardresearch

Chemistry Nobel 2022: कैरोलिन बेर्तोज्जी समेत तीन को केमिस्ट्री का नोबल प्राइज, अब तक 25 दफा शेयर हुआ है अवार्ड, फ्रेडरिक ने दो बार जीता

नोबेल वीक 2022 की शुरुआत 3 अक्टूबर से हुई थी, यह 10 अक्टूबर तक चलेगा। 7 दिन में कुल 6 नोबेल प्राइज की घोषणा होती है। अगली घोषणा लिट्रेचर कैटेगरी को लेकर होगी।

Chemistry Nobel 2022: कैरोलिन बेर्तोज्जी समेत तीन को केमिस्ट्री का नोबल प्राइज, अब तक 25 दफा शेयर हुआ है अवार्ड, फ्रेडरिक ने दो बार जीता
केमिस्ट्री का नोबेल जीतने वाले साइंटिस्ट (कैरोलिन आर. बेर्तोज्जी, मॉर्टेन मेलडल और के. बेरी शार्पलेस) (Photo Credit – AP)

नोबेल प्राइज वीक 2022 के तीसरे दिन (5 अक्टूबर) केमिस्ट्री के नोबेल प्राइज की घोषणा हुई। रसायन शास्त्र के लिए मिलने वाला नोबेल पुरस्कार इस साल संयुक्त रूप से तीन लोगों को दिया गया है। विजेताओं का नाम है- कैरोलिन आर. बेर्तोज्जी, मॉर्टेन मेलडल और के. बेरी शार्पलेस ।

शार्पलेस को यह पुरस्कार साल 2001 में भी दो अन्य वैज्ञानिकों के साथ मिल चुका है। केमिस्ट्री का नोबेल प्राइज इस साल क्लिक केमिस्ट्री और बायोऑर्थोगोनल केमिस्ट्री के विकास के लिए दिया जा रहा है। अल्फ्रेड नोबेल की इच्छा के अनुसार रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज द्वारा रसायन विज्ञान के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने वालों को नोबेल पुरस्कार दिया जाता है।

कब मिलेगा पुरस्कार?

नोबेल प्राइज वीक में सिर्फ विजेताओं की घोषणा होती है। पुरस्कार का वितरण दिसंबर में किया जाएगा। कोरोना महामारी के कारण पिछले दो साल (2020 और 2021) में जो विजेता स्टॉकहोम नहीं पहुंच पाए थे, इस बार कमेटी ने उन्हें भी आमंत्रित किया है। नोबेल प्राइज विज्ञान, साहित्य और शांति जैसे 6 क्षेत्रों में दिया जाता है। केवल शांति का नोबेल पुरस्कार नार्वे में दिया जाता है। शेष पांच क्षेत्रों में दिए जाने वाले प्राइज के लिए विजेताओं को स्टॉकहोम बुलाया जाता है। 

फ्रेडरिक को केमिस्ट्री के क्षेत्र में दो बार मिला है पुरस्कार

फ्रेडरिक सेंगर एकमात्र ऐसे व्यक्ति हैं, जिन्हें रसायन शास्त्र क्षेत्र में योगदान के लिए दो बार नोबेल प्राइज मिला है। पहली बार उन्हें यह पुरस्कार साल 1958 और दूसरी बार साल 1980 में मिला था। नोबेल प्राइज के विजेताओं का चयन एक समिति करती है।

समिति ने केमिस्ट्री के लिए अब तक 113 लोगों को पुरस्कृत किया है, जिनमें सात महिलाएं हैं। केमिस्ट्री का नोबेल पुरस्कार दो विजेताओं द्वारा 25 बार साझा किया जा चुका है।

नोबेल का इतिहास

नोबेल पुरस्कार अल्फ्रेड बर्नहार्ड नोबेल के वसियत के आधार पर दिया जाता है। अल्फ्रेड नोबेल के नाम 355 पेटेंट लेकिन उन्हें उनके सबसे विनाशकारी आविष्कार डाइनामाइट की वजह से अधिक जाना जाता है। बताया जाता है कि डाइनामाइट के गलत इस्तेमाल से दु:खी अल्फ्रेड ने मानवता को लाभ पहुंचाने वालों को सम्मानित करने की ठानी थी। 1895 में अल्फ्रेड नोबेल के आखिरी वसियत के आधार पर नोबेल पुरस्कार की स्थापना हुई और 1901 में पहली बार पुरस्कार दिया गया।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 05-10-2022 at 06:55:20 pm