ताज़ा खबर
 

33 देशों के 157 लोगों को ले जा रहा बोइंग 737 विमान क्रैश, कोई नहीं बचा

यह विमान स्थानीय समयानुसार तड़के आठ बजकर 38 मिनट पर बोले अंतरराष्ट्रीय हवाई अड़डे से रवाना हुआ और छह मिनट बाद ही इसका ‘‘संपर्क टूट’’ गया था।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा से केन्या की राजधानी नैरोबी जा रहा इथोपियन एयरलाइंस का बोइंग 737 विमान रविवार (10 मार्च, 2019) को रास्ते में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। अंतर्राष्ट्रीय समाचार एजेंसियों के मुताबिक, इस विमान में 149 सवारियां और चालक दल के आठ सदस्य थे। ‘रॉयटर्स’ ने इथोपिया के सरकारी प्रसारक के हवाले से कहा कि हादसे में कोई भी जीवित नहीं बचा। इथोपिया के प्रधानमंत्री ने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदनाएं प्रकट की।

इससे पहले, एयरलाइन ने एक बयान में कहा गया था, ‘‘हम पुष्टि करते हैं कि अदीस अबाबा से नैरोबी जाने वाली उड़ान संख्या ईटी 302 आज दुर्घटना की शिकार हो गई।’’ आगे कहा गया, ‘‘विश्वास किया जा रहा है कि इसमें 149 यात्री और चालक दल के आठ सदस्य थे।’’ एयर लाइन ने कहा, ‘‘राहत और बचाव अभियान चलाया जा रहा है और हम अभी किसी के जीवित होने या संभावित मौत की पुष्टि नहीं कर रहे।’’

यह विमान स्थानीय समयानुसार तड़के आठ बजकर 38 मिनट पर बोले अंतरराष्ट्रीय हवाई अड़डे से रवाना हुआ और छह मिनट बाद ही इसका ‘‘संपर्क टूट’’ गया। प्रधानमंत्री आबी अहमद के कार्यालय ने ट्वीट करके कहा, ‘‘आज सुबह अपनी नियमित उड़ान पर इथोपियाई एयरलाइंस बोइंग 737 से कीनिया के नैरोबी जा रहे लोगों के परिजन को उनके प्रियजन को खोने के प्रति वह गहरी संवेदना प्रकट करते हैं।’’

विमान में 33 देशों के लोग थे। हालांकि, अभी तक हादसे का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। ‘बीबीसी’ को एक चश्मदीद ने बताया कि घटना के दौरान धमाका हुआ था, जिसके बाद विमान आकर नीचे गिरा था और उसमें आग लग गई थी। उस दौरान धू-धूकर आसपास के इलाके में धुआं उठ रहा था।

बोइंग 737 मैक्स विमान 2016 में लॉन्च हुआ था और जुलाई 2018 में इसे इथोपियन एयरलाइंस में शामिल किया गया था। इससे पांच महीने पहले भी इसी मॉडल का एक अन्य विमान दुर्घटना का शिकार हुआ था। इंडोनेशिया में समुद्र के पास तब लायन एयर फ्लाइट क्रैश हो गई थी, जिसमें 190 लोग सवार थे। (भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App