ताज़ा खबर
 

नाइजर में बाढ़ से 38 लोगों की मौत, 92 हज़ार बेघर, 9000 से अधिक मकान ध्वस्त

निर्धनतम देशों में से एक नाइजर में करीब 3,00,000 शरणार्थी और आंतरिक रूप से विस्थापित लोग भी है जो देश के दक्षिण पूर्वी हिस्से और समीपवर्ती नाइजीरिया में बोको हराम के उग्रवाद के चलते अपने घर छोड़ कर आए हैं।

Author नियामी | September 8, 2016 12:25 pm
नाइजीरिया के बोरनो राज्य के बामा में आंतरिक रूप से विस्थापित लोगों के लिए बनाए गए शिविर में पानी के लिए इकट्ठा हुईं महिलाएं। (REUTERS/Afolabi Sotunde/31 Aug 2016)

नाइजर में बीते जून से आई भीषण बाढ़ के कारण कम से कम 38 लोग मारे गए हैं और 92,000 लोग बेघर हो चुके हैं। मानवाधिकार मामलों में समन्वय के लिए संयुक्त राष्ट्र के कार्यालय ने बताया कि अगस्त में हुई भीषण बारिश की वजह मरने वालों की संख्या बढ़ गई है। सरकार के पिछले आंकड़े के अनुसार बाढ़ में 14 लोगों की जान गई थी। हालांकि अब यह आंकड़ा बढ़ गया है। विश्व निकाय ने सरकारी आंकड़ों का हवाला देते हुए बताया कि बाढ़ की वजह से 26,000 से अधिक पशु लापता हैं और 9,000 से अधिक मकान ध्वस्त हो गए हैं।

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, प्रशासन और गैर सरकारी संगठनों ने अब तक 50,000 से अधिक लोगों को राहत पहुंचाई है। कई बेघरों ने स्कूलों और अन्य सार्वजनिक इमारतों में शरण ले रखी है। नाइजर में इन दिनों बारिश का मौसम होता है। बहरहाल, भीषण सूखे की वजह से खाद्य संकट की समस्या से उबरने के लिए संघर्ष किया है। दुनिया के निर्धनतम देशों में से एक नाइजर में करीब 3,00,000 शरणार्थी और आंतरिक रूप से विस्थापित लोग भी है जो देश के दक्षिण पूर्वी हिस्से और समीपवर्ती नाइजीरिया में बोको हराम के उग्रवाद के चलते अपने घर छोड़ कर आए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App