ताज़ा खबर
 

कोहराम: अमेरिका-यूरोप में कोरोना संक्रमण से तबाही की नई मुश्किल; यूएस में एक दिन में रेकॉर्ड 3936 मौत, ब्रिटेन में 60 हजार से ज्यादा मामले

अमेरिका में कोरोना की नई लहर के बीच 31 जनवरी को लॉस एंजिलिस में होने वाले 63वें सालाना ग्रैमी अवॉर्ड्स को टाल दिया गया है। इसका आयोजन अब 14 मार्च को किया जा सकता है। जर्मनी में 11 हजार से ज्यादा मामले आए और 944 लोगों की जान गई।

virusकोरोना से लोग परेशान। फाइल फोटो।

यूरोप में कोरोना संक्रमण से तबाही की नई मुश्किल सामने आ रही है। अमेरिका में एक दिन में रेकॉर्ड 3936 मौत हुई हैं। जबकि, ब्रिटेन में 60 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। कई यूरोपीय देशों ने पूर्णबंदी लगानी शुरू कर दी है। ब्रिटेन से लेकर जापान, जापान से लेकर कैलिफोर्निया तक अस्पतालों में मरीजों को भर्ती करने के लिए जगह नहीं बची है और कुछ सरकारों के फिर पूर्णबंदी लगाने से आजीविका का खतरा उत्पन्न हो गया है।

जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के अनुसार, अमेरिका में कोविड-19 से एक दिन में होने वाली मौतों का रेकॉर्ड टूट गया है। 24 घंटों में अमेरिका में कोरोना विषाणु संक्रमण के कारण 3936 लोगों की मौत हुई है। दुनिया भर में कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले अमेरिका में हैं। दुनियाभर में कोरोना मरीजों की संख्या आठ करोड़ 56 लाख के पार पहुंच गई है। कोरोना विषाणु का नया प्रकार आने के बाद आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है।

ब्रिटेन में कोरोना विषाणु संक्रमण के 60 हजार 916 मामले सामने आए हैं। अब तक वहां 27.74 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। पूर्णबंदी लगा दी गई है। जर्मनी में कड़े प्रतिबंधों के साथ पूर्णबंदी बढ़ा दी गई है। चांसलर एंजेला मर्केल ने एलान किया कि 31 जनवरी तक पूर्णबंदी का फैसला लिया गया है।

अमेरिका में कोरोना की नई लहर के बीच 31 जनवरी को लॉस एंजिलिस में होने वाले 63वें सालाना ग्रैमी अवॉर्ड्स को टाल दिया गया है। इसका आयोजन अब 14 मार्च को किया जा सकता है। जर्मनी में 11 हजार से ज्यादा मामले आए और 944 लोगों की जान गई।

फ्रांस में कोरोना के नए मामलों की संख्या 24 घंटे में 20,489 तक पहुंच गई है। इस दौरान 867 लोगों की मौत भी हुई। इजरायल में पूर्णबंदी लगा दी गई है। दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील में शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए जगह नहीं मिल रही है। वहीं थाईलैंड में संक्रमण के मामले अचानक से तेजी से बढ़ गए हैं।

साल के अंत में लोगों के छुट्टियों पर निकलने के कारण कोविड-19 के मामलों में भी बढ़ोतरी आई है। अधिकतर देशों में ब्रिटेन में सामने आए विषाणु के नए स्वरूप (स्ट्रेन) के मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की प्रवक्ता डॉ. मार्गरेट हैरिस ने कहा कि जनवरी मुश्किलों भरा रहेगा।

Next Stories
1 बढ़ने वाली हैं अमेरिकी राष्ट्रपति की मुश्किलेंः अपने टॉप कमांडर की हत्या के लिए ईरान ने इंटरपोल से की ट्रंप और 47 अधिकारियों की गिरफ्तारी की मांग
2 दुबई में चोरी करने जाते हैं इजरायली पर्यटक, रिपोर्ट में दावा – बुर्ज खलीफा को भी नहीं छोड़ा, उड़ा ले गए सामान
3 ईरान-कोरिया में तनाव: तेहरान ने समुद्र में कब्जाया सऊदी से लौट रहा जहाज, सियोल से भेजे गए सैनिक
ये पढ़ा क्या?
X