ताज़ा खबर
 

वीडियो: 140 की रफ्तार वाली हवा में साइकिल समेत उड़ा शख्‍स, रेलिंग पकड़ रुके लोग

उत्तरी यूरोप के नीदरलैंड में गुरुवार (18 जनवरी) को भारी तूफान का हाई अलर्ट घोषित किया गया है। हवाएं इतनी तेज चल रही हैं कि लोग जमीन पर अपने पांव नहीं जमा पा रहे हैं। सोशल मीडिया पर रूह कंपाने वाले वीडियो वायरल हो रहे हैं।

उत्तरी यूरोप में आए भयंकर तूफान से जनजीवन ठप्प पड़ गया है। (फोटो सोर्स- ट्विटर)

उत्तरी यूरोप में गुरुवार (18 जनवरी) को भारी तूफान का हाई अलर्ट घोषित किया गया है। हवाएं इतनी तेज चल रही हैं कि लोग जमीन पर अपने पांव नहीं जमा पा रहे हैं। सोशल मीडिया पर रूह कंपाने वाले वीडियो वायरल हो रहे हैं। नीदरलैंड के हेग शहर के एक वीडियो में साइकिल ले जाता एक शख्स करीब 140 की रफ्तार से आए हवा के झोंके में उड़ता हुआ दिखा। सड़क की दूसरी तरफ लगी रेलिंग न होती तो वह गंभीर रूप से चोटिल हो सकता था। साइकिल वाले शख्स के साथ और भी दूसरे लोगों को रेलिंग पकड़कर थमते हुए देखा गया। देखते ही देखते तूफान को लेकर सोशल मीडिया में हैशटैग स्टॉर्म ट्रेंड करने लगा और लोगों ने ढेरों वीडियो पोस्ट किए। एक वीडियो में हवा के कारण एक विशालकाय ट्रक पलटते-पलटतो बचा। वहीं एक वीडियो में एक बड़ा सा होर्डिंग हवा के बार से धराशाई हो गया।

 

 

 

एक कंटेनर डिपो में ऊपर तक लगे कंटेनर एक के बाद एक धड़ाम से गिरते दिखाई दिए तो वहीं सड़क पर खड़ी एक कार को तूफान ने उल्टा-पुल्टा कर दिया। तूफान के कारण कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे और एम्स्टर्डम के शिफोल एयरपोर्ट पर सभी उड़ानों रद्द किया गया है। तूफान के कारण नीदरलैंड में तीन लोगों के मारे जाने की बात कही जा रही है, वहीं, जर्मनी में यह आंकड़ा 6 बताया गया है। लोगों को घरों में रहने की चेतावनी दी गई है।

तूफान का सबसे ज्यादा असर रेल नेटवर्क पर बताया जा रहा है। इस तूफान की वजह से भारत से अमेरिका और यूरोप के लिए जाने वाली कई फ्लाइट्स पर भी असर पड़ा है क्यों कि इन फ्लाइट्स के लिए एम्स्टर्डम का शिफोल बड़ा हॉल्ट है जहां तूफान की वजह से सभी उड़ाने रद्द की गई हैं। इस तूफान के फ्रेडरिक नाम दिया गया है। जर्मनी की पुलिस के मुताबिक ब्रोकेन शहर में करीब 203 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चलीं जो कि 2007 के बाद से सबसे भयंकर तूफान माना जा रहा है। तूफान को लेकर लोग सहमे हुए हैं और इसके गुजर जाने का इंतजार कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App