scorecardresearch

Nepal Avalanche Video: भीषण हिमस्खलन की चपेट में मानसलू बेस कैंप, कैमरे में कैद हुआ भयावह मंजर

Nepal Avalanche: नेपाल में स्थित माउंट मानसलू दुनिया की आठवीं सबसे ऊंची पर्वत चोटी है। 8,163 मीटर ऊंचा यह पर्वत शिविर 3 और शिविर 4 में आए हिमस्खलन की चपेट में आ गया था।

Nepal Avalanche Video: भीषण हिमस्खलन की चपेट में मानसलू बेस कैंप, कैमरे में कैद हुआ भयावह मंजर
नेपाल के मानसलू बेस कैंप में हिमस्खलन (Photo Source- Screengrab/ ANI)

Nepal Avalanche: नेपाल के मानसलू बेस कैंप पर रविवार (2 अक्टूबर) सुबह भारी हिमस्खलन (Avalanche) हुआ है। बताया जा रहा है कि इसकी चपेट में आकर कई कैंप तबाह हुए हैं। पिछले हफ्ते भी इस इलाके में हिमस्खलन हुआ था, जिसमें दो लोगों की मौत हो गयी थी।

नेपाल के मानसलू पर्वत बेस कैंप के पास एक बार फिर भारी हिमस्खलन हुआ है। अभी तक इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है। बेस कैंप के सूत्रों के अनुसार कुछ टेंट नष्ट हो गए हैं। इस घटना की पुष्टि ताशी शेरपा ने की है। ताशी 8163 मीटर की ऊंचाई पर दुनिया के आठवें सबसे ऊंचे पर्वत पर चढने की कोशिश कर रहे थे। ताशी ने इस घटना का वीडियो भी शेयर किया है।

एक हफ्ते पहले भी हुआ था हिमस्खलन: नेपाल के माउंट मानसलू बेस कैंप में एक हफ्ते पहले भी हिमस्खलन की घटना हुई थी, जिसमें दो पर्वतारोहियों की मौत हो गई थी और एक दर्जन से ज्यादा पर्वतारोही घायल हो गए थे। इनमें से 5 को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जबकि 7 को सुरक्षित बचा लिया गया था। इस हिमस्खलन में लापता अमेरिकी पर्वतारोही हिलारी नेल्सन मृत पाई गई थीं।

उत्तरकाशी में भूकंप के झटके: वहीं, दूसरी ओर केदारनाथ में शनिवार को हिमस्खलन के बाद उत्तरकाशी में रविवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए। हालांकि, भूकंप की वजह से कोई नुकसान नहीं हुआ है।

उत्तराखंड के केदारनाथ धाम में एक बार फिर से चोराबाड़ी से तीन किलोमीटर ऊपर बर्फ का पहाड़ खिसकने की घटना सामने आई थी। शनिवार सुबह छह बजे हिमालय क्षेत्र में केदारनाथ मंदिर के पास हिमस्खलन की यह घटना हुई। जिसके चलते ग्लेशियर से बर्फ का पहाड़ भरभरा कर गिर गया। राहत की बात यह है कि इस हिमस्खलन में केदारनाथ मंदिर को कोई नुकसान नहीं हुआ। श्री बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने इसकी जानकारी दी।

मंदिर के पास बर्फ का पहाड़ खिसकने का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर सामने आया है। वीडियो में देखा जा रहा है कि बर्फ का पहाड़ देखते ही देखते पूरी तरह ढह गया। यह हिमखंड काफी बढ़ा था, जिससे बर्फ के धुएं का गुबार काफी दूर तक फैल गया।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 02-10-2022 at 04:05:42 pm
अपडेट