पाकिस्‍तान में हिंदुओं का उड़ाया जा रहा मजाक, संसद में हिंदू सदस्‍य ने खोली पोल - National Assembly member Lal chand Malhi video reveal hindu sentiments hurt in pakistan - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तान में हिंदुओं का उड़ाया जा रहा मजाक, संसद में हिंदू सदस्‍य ने खोली पोल

उन्होंने कहा, "हमें हिंदू-हिंदू कहकर चिढ़ाते हैं। हम तो पाकिस्तान है न तो फिर ये क्यों हमे पाकिस्तानी नहीं कहते। इन्हें गाली इंडिया को देनी होती है लेकिन ये हिंदुओं को गाली देने लगते हैं। क्या कसूर है हमारा?"

नेशनल एसेंबली के हिंदू सदस्य लाल चंद माल्ही। (Photo Source: Youtube)

पाकिस्तान में कई बार ऐसे मामले सुनने को मिले हैं कि वहां हिंदुओं पर बहुत अत्याचार किए जा रहे हैं। वहीं इस मुद्दे को लेकर नेशनल एसेंबली के हिंदू सदस्य लाल चंद माल्ही ने भी खुलासा कर दिया है कि पाकिस्तान में हिंदुओं को परेशान किया जाता है और उनका मजाक उड़ाया जाता है। नेशनल एसेंबली में बोलते हुए लाल चंद माल्ही ने कहा, “हमसे एक बार कहा गया हिंदू गाय का पुजारी। हां, हम गाय की पूजा करते हैं ये हमरा हक है और हम करेंगे। ये हमारा मजाक उड़ाते हैं।”

इसके बाद उन्होंने कहा, “हमें हिंदू-हिंदू कहकर चिढ़ाते हैं। हम तो पाकिस्तानी है न तो फिर ये क्यों हमे पाकिस्तानी नहीं कहते। इन्हें गाली इंडिया को देनी होती है लेकिन ये हिंदुओं को गाली देने लगते हैं। क्या कसूर है हमारा? मैं यह काफी दिनों से नोट कर रहा हूं कि इन मुद्दों पर कोई बात नहीं करता है। दो दिन पहले एक हिंदू बच्चे को अगवा कर उसे मुसलमान बना दिया गया लेकिन किसी ने इस मुद्दे को नहीं उठाया। ये बस जुमले कसेंगे और मजाक उड़ायेंगे लेकिन हम यह बिलकुल बर्दाश्त नहीं करेंगे। हमारा बराबर का हक है और हम पाकिस्तानी हैं।”  पाकिस्तान में हिंदुओं की स्थिति को लेकर माल्ही द्वारा किए गए खुलासा का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया गया है। फिलहाल यह पता नहीं चल पाया है कि यह वीडियो हाल ही का है या फिर पुराना है।

आपको बता दें कि जहां एक तरफ पाकिस्तान में हिंदुओं पर अत्याचार के मामलों की बात सामने आ रही है तो वहीं पहली बार कोई हिंदू महिला सांसद बन पाकिस्तान की संसद पहुंच गई है। इस महिला का नाम कृष्णा कुमारी कोल्ही है जो सिंध प्रांत की रहने वाली है। कोल्ही को बिलावल जरदारी भुट्टों की पाकिस्तान पीपल्स पार्टी द्वारा टिकट दिया गया था। 39 वर्षीय कोल्ही बहुत ही तकलीफों का सामना करते हुए इस मुकाम तक पहुंची हैं। कोल्ही को सिंध की अल्पसंख्यक आरक्षित सीट से टिकट दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App