Narendra Modi in Davos: Come Invest in India for Peace and Prosperity, Says PM in Plenary Speech - Jansatta
ताज़ा खबर
 

दावोस में दुनियाभर के उद्योगपतियों से मिले पीएम नरेंद्र मोदी, बोले- भारत आइए, निवेश कीजिए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अंतरराष्ट्रीय व्यापार परिषद के एक कार्यक्रम में दुनिया की शीर्ष कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ मुलाकात की।

Author दावोस | January 24, 2018 12:24 AM
दावोस में प्रधानमंत्री ने भारत के विकास की कहानी तथा देश में अंतरराष्ट्रीय कंपनियों के लिए मौजूद अवसरों के बारे में बताया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार कोअंतरराष्ट्रीय व्यापार परिषद के एक कार्यक्रम में दुनिया की शीर्ष कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ मुलाकात की। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने भारत के विकास की कहानी तथा देश में अंतरराष्ट्रीय कंपनियों के लिए मौजूद अवसरों के बारे में बताया। विश्व आर्थिक मंच की बैठक को संबोधित करने के बाद मोदी ने दुनिया के नेताओं तथा कंपनी प्रमुखों के साथ लगातार बैठकें कीं। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने जिनेवा स्थित संगठन के अंतरराष्ट्रीय व्यापारिक समुदाय के साथ भी परिचर्चा में हिस्सा लिया। यह संगठन हर साल दावोस में शिखर बैठक का आयोजन करता है।

वैश्विक मुख्य कार्यकारियों के साथ बैठक के बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट किया, ‘‘डब्ल्यूईएफ में दुनिया भारत के 1.3 अरब लोगों की सराहना कर रही है। दावोस में भारत में कारोबारी माहौल में आए बदलाव की जमकर प्रशंसा हो रही है।’’ दावोस में भारत का आधिकारिक अभियान ‘इंडियामींसबिजनेस’ है। बाद में प्रवक्ता ने इसी के हैशटैग के साथ प्रधानमंत्री की परिषद के सदस्यों के साथ तस्वीर भी ट्वीट की। मोदी ने भारतीय कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ भी अलग से बैठक की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यहां विश्व आर्थिक मंच :डब्ल्यूईएफ: की सालाना शिखर बैठक के मौके पर भारतीय उद्योगपतियों से मुलाकात की और उन्हें ‘‘मिलकर हम कर सकते हैं’’ का भी संदेश दिया। भारत ने डब्ल्यूईएफ में देश की वृद्धि की कहानी के पीछे सामूहिक प्रयास पर जोर दिया है। इस बैठक में राहुल बजाज, चंदा कोचर, उदय कोटक, नरेश गोयल, एन चंद्रशेखरन, आनंद महिंद्रा, सुनील मित्तल, रवि रुइया और चंद्रजीत बनर्जी मौजूद थे। बैठक में वरिष्ठ सरकारी अधिकारी एस जयशंकर, अमिताभ कांत, रमेश अभिषेक और अतुल चतुर्वेदी भी उपस्थित थे।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने ‘इंडियामींसबिजनेस’ हैशटैग के साथ ट्वीट किया, ‘‘हम मिलकर कर सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और डब्ल्यूईएफ में मौजूद भारतीय सीईओ हाथ से हाथ मिलाकर देश के चमकदार भविष्य के लिए काम करेंगे।’’ मोदी ने कल रात गोलमेज रात्रिभोज बैठक में 60 मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ बातचीत की थी। इसमें कई बड़ी कंपनियों के सीईओ शामिल हुए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App