ताज़ा खबर
 

म्यांमा में भड़की धार्मिक हिंसा, बौद्धों ने धर्मस्थल में की तोड़फोड़

म्यांमा में पिछले चार साल से सांप्रदायिक हिंसा में अनेक लोगों की मौत हो गई है और यह आंग सान सू की की नई सरकार के लिए एक चुनौती है।

Author बागो (म्यांमा) | June 24, 2016 14:56 pm
अल्पसंख्यक समुदाय के करीब 70 लोगों ने रात में पुलिस थाना में शरण ली।

मध्य म्यांमा के एक शहर में दो पड़ोसियों के बीच विवाद सांप्रदायिक दंगे में बदल गया और एक समुदाय के लोगों ने अल्पसंख्यक समुदाय के धर्मस्थल में तोड़फोड़ की जिसके बाद उस समुदाय के लोगों को रातोंरात पुलिस थाने में पनाह लेनी पड़ी। म्यांमा में पिछले चार साल से सांप्रदायिक हिंसा में अनेक लोगों की मौत हो गई है और यह आंग सान सू की की नई सरकार के लिए एक चुनौती है।

गुरुवार (23 जून) की हिंसा में बहुसंख्यक समुदाय के करीब दो सौ लोगों ने बागो प्रांत के अल्पसंख्यक बहुल गांव थुए था मेइन में तोड़फोड़ मचाई। एक अल्पसंख्यक स्कूल की इमारत पर तूतू-मैंमैं हिंसा में बदल गई। ग्राम प्रशासक ‘तिंत ने बताया कि एक अल्पसंख्यक पुरुष और एक बहुसंख्यक महिला के बीच बहस हो गई। इसके बाद लोग पुरुष से लड़ने आ गए। तिंत ने बताया कि धर्मस्थल क्षतिग्रस्त हो गया।

ग्राम प्रशासक ने बताया कि अल्पसंख्यक समुदाय के करीब 70 लोगों ने रात में पुलिस थाना में शरण ली। हिंसा में कोई गंभीर रूप से घायल नहीं हुआ है। इलाके में शांति स्थापित कर दी गई है। अल्पसंख्यक समुदाय के एक युवक तिन श्वे उन ने बताया कि उन्हें भागना पड़ा क्योंकि कुछ लोगों ने मारने की धमकी दी थी। उनके समुदाय के तकरीबन 150 लोग दहशत में हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App