ताज़ा खबर
 

कंपनी ने महिला को काला हिजाब पहनने से रोका, बताया “आतंक” का प्रतीक

यूनाइडेट किंगडम ट्रिब्यूनल में एक महिला ने अपनी कंपनी पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

प्रतीकात्मक फोटो। (फाइल)

यूनाइडेट किंगडम ट्रिब्यूनल में एक महिला ने अपनी कंपनी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। यह मामला धार्मिक भेदभाव का भी हो सकता है। महिला की शिकायत के मुताबिक उसके नियोक्ताओं ने उसे दफ्तर में काला हिजाब पहनने से मना किया क्योंकि इससे आतंकवादी संबद्धता होने के संकेत मिलते थे। महिला ग्रेटर मैनचेस्टर में हार्वे डीन कंपनी के लिए बतौर एस्टेट एजेंट काम करती थी। मैनचेस्टर इम्प्लॉमेंट ट्रिब्यूनल में दायर की गई शिकायत में कहा गया है कि उसे (महिला) को अपने हिजाब का रंग बदलने की सलाह दी गई। महिला ने अपनी शिकायत में दावा किया, “यह कंपनी के हित में होगा आप अपने हिजाब का रंग बदलें। हिजाब का रंग काला होने के चलते इसकी संबद्धता आतंकवाद से हो जाती है।” समाचार एजंसी पीटीआई के मुताबिक महिला ने अपने नियोक्ताओं के इस ऑर्डर को मानने से इंकार कर दिया।

खबर के मुताबिक, एक बैठक के दौरान महिला के ऑफिस का एक साथी कथित रूप से उसके लिए अलग-अलग रंग के हिजाब लेकर आया और उसने महिला से काला हिजाब बदलने की बात कही। महिला ने दावा किया है कि दफ्तर में उसकी शिकायत पर कोई सुनवाई नहीं हुई जिसके बाद उसने ट्रिब्यूनल में शिकायत की है। वहीं खबर के मुताबिक, शिकायतकर्ता कंपनी में काम करने वाली इकलौती मुस्लिम महिला बताई जा रही है और उसके साथ धार्मिक आधार पर भेदभाव होने की बात कंपनी के दूसरे अधिकारी ने कही है।

ट्रिब्यूनल को दी गई शिकायत में कहा गया है कि कंपनी के अधिकारियों द्वारा किया गया बर्ताव बेहद अपमानजनक, शत्रुतापूर्ण और आक्रामक व्यवहार था। मामले को लेकर महिला के वकील जिल्लुर रहमान का मानना है कि यह मामला पूरे यूनाइडेट किंगडम में काफी अलग तरह का है। गौरतलब है यूरोपियन कोर्ट ऑफ जस्टिस में जजों ने अपने फैसले में यह पाया था कि कंपनियां चाहे तो कर्मचारियों को बुर्का/हिजाब पहनने से रोक सकती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पाकिस्तान में तेल का टैंकर फटने से कम से कम 140 की मौत, 100 से ज्‍यादा घायल
2 वाशिंगटन पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी, डोनाल्ड ट्रम्प ने बताया सच्चा दोस्त, पहली बार किसी विदेशी नेता के सम्मान में डिनर देंगे नए अमेरिकी राष्ट्रपति
3 अमेरिका: PM के पहुंचने से पहले ही भारत को मिली दो कूटनीतिक सफलताएं
ये पढ़ा क्या?
X