scorecardresearch

US प्रेसिंडेट और इजराइली PM को नहीं मारते मगर लेखकों को मार रहे हैं मुस्लिम आतंकी- रुश्दी पर हमले के बाद बोलीं तसलीमा नसरीन

सलमान रुश्दी पर हमला करने वाले को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने सलमान रुश्दी पर हमला करने वाले की पहचान हादी मतार के रूप में की है। वह 24 साल का है और न्यू जर्सी के फ़ेयरव्यू का रहने वाला है।

US प्रेसिंडेट और इजराइली PM को नहीं मारते मगर लेखकों को मार रहे हैं मुस्लिम आतंकी- रुश्दी पर हमले के बाद बोलीं तसलीमा नसरीन
लेखिका तसलीमा नसरीन (source- Express Photo by Tashi Tobgyal)

अमेरिका के न्यूयॉर्क में 12 अगस्त 2022 को बुकर पुरस्कार विजेता लेखक सलमान रुश्दी पर हमला हुआ था। उनपर हमला उस वक्त हुआ जब रुश्दी पश्चिमी न्यूयॉर्क में एक कार्यक्रम में बोलने वाले थे। रुश्दी पर हमले के बाद मशहूर लेखिका तसलीमा नसरीन ने रोष प्रकट करते हुए कहा कि US प्रेसिंडेट और इजराइली PM को नहीं मारते मगर लेखकों को मार रहे हैं मुस्लिम आतंकी।

तसलीमा नसरीन ने रविवार (14 अगस्त) को अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, “मुस्लिम आतंकवादी अमेरिकी राष्ट्रपति और इजरायल के प्रधानमंत्री से बहुत नाराज हैं क्योंकि वे आतंकवादियों को मारने और मुस्लिम लैंड्स पर बम गिराने का आदेश देते हैं। लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति और इजरायल के पीएम को मारने की कोशिश करने के बजाय मुस्लिम आतंकवादी निर्दोष लेखकों, कलाकारों, स्वतंत्र विचारकों को मार देते हैं। ऐसा क्यों?”

इस्लाम की आलोचना करने वाले किसी भी व्यक्ति पर हमला: इससे पहले सलमान रुश्दी पर हुए हमले के बाद प्रतिक्रिया देते हुए भी तसलीमा ने कई ट्वीट किए थे। एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, “मुझे अभी पता चला कि न्यूयॉर्क में सलमान रुश्दी पर हमला हुआ था। मैं सचमुच स्तब्ध हूं। मैंने कभी नहीं सोचा था कि ऐसा होगा। वह पश्चिम में रह रहे थे। 1989 से उनकी रक्षा की गई है। अगर उन पर हमला किया जाता है, तो इस्लाम की आलोचना करने वाले किसी भी व्यक्ति पर हमला किया जा सकता है। मैं चिंतित हूं। रुश्दी पर अचानक हमला हो गया।”

इस्लाम के आलोचक 21वीं सदी में भी मारे जा रहे: जिसके बाद शनिवार को रुश्दी पर हमले की निंदा करते हुए एक ट्वीट में तसलीमा ने लिखा, “इस्लाम के आलोचक पहली बार 7वीं शताब्दी में मारे गए थे। वे अभी भी 21वीं सदी में मारे जाते हैं। वे तब तक मारे जाते रहेंगे जब तक इस्लाम में सुधार नहीं हो जाता, बोलने की आज़ादी की अनुमति नहीं दी जाती, हिंसा की निंदा नहीं की जाती, उग्रवाद की जन्मभूमि को ध्वस्त नहीं कर दिया जाता, तब तक किसी भी किताब को पवित्र नहीं माना जाता।”

जेके रोलिंग को जान से मारने की धमकी: वहीं दूसरी ओर मशहूर राइटर जेके रोलिंग को सलमान रुश्दी पर हमले की निंदा करने वाले एक ट्वीट के लिए जान से मारने की धमकी मिली है। हैरी पॉटर की राइटर रोलिंग ने ट्विटर पर एक यूजर के धमकी भरे मैसेज के स्क्रीनशॉट को शेयर किया, जिसमें लिखा था कि चिंता मत करो; अगला नंबर तुम्हारा है।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.