ताज़ा खबर
 

5 साल के बेटे को मां ने पहले दिया जहर, फिर कार में शव रखकर लगा दी आग, कोर्ट से मिली 50 साल की कैद

महिला ने कहा कि वह तलाक होने फिर बच्चे को रखने की कानून लड़ाई के कारण तनाव में आ गई थी

तस्वीर में पांच साल का बेटा और उसकी मां

अमेरिकी के मेरीलैंड में एक महिला को अपने पांच साल के बेटे को जहर देने और जलाकर मार डालने का दोषी पाए जाने पर 50 साल की कैद की सजा सुनाई गई है। सजा सुनाए जाने के दौरान 35 साल की महिला आरोपी नरगिस शाफिराद अपने तलाक को इसकी वजह बताया। महिला के मुताबिक, खराब रिश्तों के बाद तलाक और फिर बच्चे को रखने की कानून लड़ाई के कारण वह तनाव में आ गई थी, जिससे उसने अपने बेटे डेनियल को जहर की खुराक दे दी फिर उसे जलती हुई कार में छोड़ दिया।

बच्चे के शव का परीक्षण करने पर पता लगा था कि 16 जून 2015 को बच्चे की मौत Diphenhydramine (बेनेड्रिल जैसी दवाइयों में पाया जाने वाला एक तत्व) की अधिक मात्रा के कारण हुई। बच्चे के मुह के पास चोट और खंरोच के निशान भी पाए गए थे। अभियोजन पक्ष ने कहा कि महिला अपने बेटे को हर दो घंटे बाद दवाई खिलाती रही, जब तक बच्चे की मौत नहीं हो गई। बच्चे को जहर देने के बाद महिला ने मोंटगोमरी काउंटी हाईवे के पास कार का एक्सिडेंट हो जाने का ढोंग रचा। उसने कार के अंदर अपने बेटे का शव रखा और कार पर गैसोलीन छिड़ककर आग लगा दी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्थानीय पुलिस और दमकलकर्मियों ने कहा कि नरगिस कार के बाहर पड़ी हुई थी।

सोमवार को जब कोर्ट ने उन्हें सजा सुनाई तो नरगिस ने कहा, “मैं एक मानसिक रूप से टूटी हुई महिला थी। मुझे अभी तक भरोसा नहीं हो रहा कि मैने अपना बेटा खो दिया है।” मोंटगोमरी काउंटी सर्किट कोर्ट के जज नेल्सन रुप ने कहा, “एक महिला द्वारा अपने ही बेटे की जान ले लेना इतना खौफनाक जुर्म है कि ऐसा करने की वजह तय कर पाना भी मुश्किल है।” उन्होंने कहा, “बस एक ही बात समझ पाया हूं कि ऐसा अपराधी द्वारा बनाई गई अवधारणा के कारण हुआ है, जिसके पीछे की वजह वो ही जाने।”

डोनाल्ड ट्रंप ने कंसास में मारे गए भारतीय की मौत की निंदा की;

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App