ताज़ा खबर
 

बंदूकधारियों का मस्जिद पर हमला, इमाम को चाकू घोंपा, कई घायल

गुरुवार को दोपहर की नमाज के बाद 3 अज्ञात बंदूकधारियों ने अचानक मस्जिद पर हमला बोल दिया। इस दौरान मस्जिद में इमाम के अलावा मस्जिद की देखभाल करने वाला और एक प्रार्थना करने आया व्यक्ति मौजूद था।

दक्षिण अफ्रीका की मस्जिद पर हमला, इमाम की हत्या (image source-Reuters)

दक्षिण अफ्रीका के डरबन शहर में गुरुवार को कुछ अज्ञात हमलावरों ने एक मस्जिद पर हमला कर मस्जिद के इमाम की हत्या कर दी और 2 अन्य लोगों को चाकू घोंपकर घायल कर दिया। यह हमला डरबन के बाहरी इलाके वेरुलम में एक मस्जिद पर किया गया। फिलहाल हमले की वजह नहीं पता चल सकी है। पुलिस आरोपियों की पहचान में जुटी है और मामले की जांच कर रही है। खबर के अनुसार, गुरुवार को दोपहर की नमाज के बाद 3 अज्ञात बंदूकधारियों ने अचानक मस्जिद पर हमला बोल दिया। इस दौरान मस्जिद में इमाम के अलावा मस्जिद की देखभाल करने वाला और एक प्रार्थना करने आया व्यक्ति मौजूद था। हमलावरों ने आते ही इमाम समेत तीनों लोगों पर चाकू से हमला बोल दिया और मस्जिद में पेट्रोल बम फेंककर आग लगा दी। इसके बाद हमलावर एक कार में बैठकर फरार हो गए।

डॉक्टरों का कहना है कि इमाम का चाकू से गला काट दिया गया था, जिससे हमले के कुछ देर बाद ही इमाम की मौत हो गई। अन्य दो पीड़ितों को पेट और जांघ में चाकू मारा गया है, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। उल्लेखनीय है कि दक्षिण अफ्रीका की 5.5 करोड़ आबादी में से 1.5 प्रतिशत आबादी मुस्लिम है। दक्षिण अफ्रीका में किसी धार्मिक स्थल पर यह पहला हमला है। वहीं जांच में पता चला है कि यह हमला चोरी या लूटपाट के मकसद से नहीं किया गया है। एक आरोपी अपना चाकू भी मौके पर छोड़ गया है, जिसकी जांच के आधार पर पुलिस हमलावरों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है।

उल्लेखनीय है कि अगले हफ्ते से मुस्लिमों का पवित्र रमजान का महीना शुरु होने वाला है। ऐसे में दक्षिण अफ्रीकी पुलिस बड़ी ही सावधानी से बयानबाजी कर रही है। वहीं इस हमले की दक्षिण अफ्रीकी संसदीय कमेटी ने भी आलोचना की है। इस कमेटी के चेयरमैन ने एक बयान जारी कर कहा है कि मस्जिद एक धार्मिक संस्थान है। दक्षिण अफ्रीका का संविधान सभी धर्मों के अधिकारों की रक्षा करता है। इस तरह का हमला बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हम चाहते हैं कि हमारा समुदाय शांति, और बिना किसी डर के मिल-जुलकर रहे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App