ताज़ा खबर
 

USA SNOW STORM: 1.2 लाख घरों से बिजली गायब, 30 इंच तक हो सकती है बर्फबारी, कई राज्‍यों में इमरजेंसी

वाशिंगटन की मेयर एम ई बाउजर ने कहा, ‘‘हमने ऐसी भविष्यवाणी की है, जो हमने पिछले 90 साल में नहीं की। यह जिंदगी और मौत का मामला है और कोलंबिया के सभी निवासियों को इसे इसी तरह से लेना चाहिए।’’

Author वाशिंगटन | January 24, 2016 1:54 AM
वॉशिंगटन का एक दृश्‍य। वॉशिंगटन डीसी के अलावा इस तूफान के कारण जो राज्य सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं, वे हैं- उत्तर कैरोलाइना, टेनेसी, मैरीलैंड, वर्जीनिया, फिलाडेल्फिया, न्यूजर्सी और न्यू यॉर्क। (REUTERS)

अमेरिका में आए भीषण बर्फीले तूफान ‘स्नोजिला’ ने राजधानी वाशिंगटन डीसी समेत देश के पूर्वी तट के ज्यादातर हिस्से को प्रभावित किया है। ऐसी आशंका है कि इस तूफान में रेकार्ड 30 इंच तक की बर्फबारी हो सकती है। तूफान के कारण अमेरिका में कम से कम आठ लोग मारे गए हैं और 10 राज्यों ने आपात स्थिति की घोषणा की है। अधिकारियों ने तूफान के रास्ते में आने वाले लाखों लोगों से सुरक्षित जगहों पर आश्रय लेने और यात्रा संबंधी बाधाओं वाले सप्ताहांत के लिए तैयार रहने को कहा है। वाशिंगटन डीसी के अलावा इस तूफान के कारण जो राज्य सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं, वे हैं – जार्जिया, नार्थ कैरोलिना, टेनिसी, मेरीलैंड, वर्जीनिया, पेंसिलवेनिया, न्यूजर्सी, न्यूयार्क और केंटुकी। इन राज्यों ने आपात स्थिति की घोषणा की है। वर्जीनिया जहां बड़ी संख्या में तेलुगू आबादी है, मीडिया ने शुक्रवार को मौसम संबंधित कई हादसों की खबर दी है।

वर्जीनिया पुलिस ने 800 से अधिक यातायात हादसों को लेकर प्रतिक्रिया दी। नॉर्थ अमेरिकन तेलुगू एसोसिएशन ने सदस्यों से अपील की है कि वे घरों के अंदर ही रहें और सुरक्षा के लिए हर ऐहतियात बरतें। बड़ी संख्या में मंदिरों, गुरुद्वारों और अन्य पूजाघरों ने प्रभावित लोगों को शरण देने के लिए अपने दरवाजे खोल दिए हैं। तूफान के रास्ते में 8.5 करोड़ तक की आबादी है जो कि देश की कुल आबादी का एक चौथाई हिस्सा है। नवीनतम आकलन के अनुसार इस तूफान के चलते 1,20,000 से भी ज्यादा घरों से बिजली गुल हो गई और क्षेत्र में कई इंच मोटी बर्फ की परत जम गई है।

अमेरिकी मीडिया ने तूफान को ‘स्नोजिला’ का नाम दिया है। वाशिंगटन में सप्ताहांत में 30 इंच मोटी बर्फ की परत जमने की आशंका है। वाशिंगटन की मेयर एम ई बाउजर ने कहा, ‘हमने ऐसी भविष्यवाणी की है, जो हमने पिछले 90 साल में नहीं की। यह जिंदगी और मौत का मामला है और डिस्ट्रिक्ट आफ कोलंबिया के सभी निवासियों को इसे इसी तरह से लेना चाहिए।’ उन्होंने यह भी कहा कि डिस्ट्रिक्ट नेशनल गार्ड्स को काम पर तैनात किया गया है। स्थानीय सरकारों ने क्षेत्र में बड़ी सड़कों और राजमार्गों से बर्फ हटाने के लिए बर्फ हटाने वाली गाड़ियों और नमक के ट्रकों का इंतजाम किया है।

तापमान के जमाव बिंदु से कम पर होने से लोग घरों के अंदर ही बने रहे। शुक्रवार और शनिवार के बीच 6,000 से अधिक उड़ानें रद्द कर दी गईं और 4,500 से अधिक उड़ानों में देरी हुई। ऐहतियात के तौर पर वाशिंगटन क्षेत्र में सार्वजनिक यातायात प्रणाली बंद कर दी गई। नेशनल वेदर सर्विस (एनडब्ल्यूएस) ने कहा, ‘भारी बर्फबारी और तेज हवाओं के कारण बहुत कम दृश्यता वाली स्थितियां पैदा हो जाएंगी और यात्रा करना बहुत खतरनाक हो जाएगा।’ एनडब्ल्यूएस के अधिकारियों ने कहा कि तूफान से एक अरब डालर से ज्यादा की क्षति हो सकती है। यह बर्फीला तूफान 36 घंटे तक जारी रह सकता है और कुछ स्थानोंं पर दो फुट से ज्यादा बर्फ गिर सकती है। एनडब्ल्यूएस ने ट्वीट में कहा कि इस तूफान के ‘असली रूप’ का पता शनिवार दोपहर से लेकर आधी रात तक चलेगा। एनडब्ल्यूएस ने साथ ही कहा, ‘भारी बर्फबारी, तेज हवाओं और बिजली गिरने का खतरा है।’

* बर्फीले तूफान ‘स्नोजिला’ के दौरान रेकार्ड 30 इंच की बर्फबारी की आशंका
* अमेरिका का पूर्वी तट प्रभावित, 10 राज्यों ने आपात स्थिति की घोषणा की
* एक चौथाई आबादी प्रभावित, 1.2 लाख से ज्यादा घरों से बिजली गुल हुई
* ‘स्नोजिला’ के लिए ‘गॉडजिला’ जैसी तैयारी, मंदिर व गुरुद्वारे भी आगे आए

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App