ताज़ा खबर
 

370 के बाद पहली बार नरेंद्र मोदी ने की डोनाल्ड ट्रंप से बात, आतंकवाद पर पाकिस्तान को घेरा

प्रधानमंत्री कार्यालय की एक विज्ञप्ति के अनुसार मोदी और ट्रंप के बीच 30 मिनट तक बातचीत चली जिस दौरान दोनों ने द्विपक्षीय एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की। यह बातचीत ‘‘गर्मजोशी भरी और सौहार्दपूर्ण’’ तरीके से हुई जो दोनों नेताओं के बीच संबंधों को बताता है।

Author नई दिल्ली | Updated: August 19, 2019 9:58 PM
370 हटने के बाद ट्रंंप से मोदी ने फोन पर बात की।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से टेलीफोन पर वार्ता की जिस दौरान उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की भारत विरोधी बयानों का परोक्ष रूप से जिक्र किया एवं कहा कि भारत के खिलाफ हिंसा के लिए इस तरह भड़काना शांति के अनुकूल नहीं है। प्रधानमंत्री कार्यालय की एक विज्ञप्ति के अनुसार मोदी और ट्रंप के बीच 30 मिनट तक बातचीत चली जिस दौरान दोनों ने द्विपक्षीय एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की।

यह बातचीत ‘‘गर्मजोशी भरी और सौहार्दपूर्ण’’ तरीके से हुई जो दोनों नेताओं के बीच संबंधों को बताता है।विज्ञप्ति के अनुसार क्षेत्रीय स्थिति के संदर्भ में मोदी ने कहा कि इस क्षेत्र में कुछ नेताओं द्वारा भारत के विरूद्ध हिंसा के लिए भड़काना और बयानबाजी करना शांति के अनुकूल नहीं है।मोदी ने आतंकवाद एवं हिंसा मुक्त माहौल बनाने और सीमापार से आतंकवाद पर रोक लगाने के महत्व को रेखांकित किया।

विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘ प्रधानमंत्री ने गरीबी, निरक्षरता एवं रोग के खिलाफ इस संघर्ष में साथ देने वाले किसी भी देश के साथ सहयोग करने के भारत के संकल्प को दोहराया।’’ समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पीएम मोदी ने ट्रंप से पाकिस्तान से संबंध पर भी बातचीत की और कहा कि पाकिस्तान की एंटी इंडिया ऐक्टिविटी से इलाके में शांति को खतरा है, भारत ऐसी गतिविधियां बर्दाश्त नहीं करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पाकिस्तानी आर्मी चीफ जनरल बाजवा का कार्यकाल बढ़ा, अगले तीन साल का मिला एक्सटेंशन
2 VIDEO: सिर सहला रहे थे सांसद, पीएम मोदी पीछे से पहुंचे और हाथ फेरने लगे
3 मजहब का मजाक या कुछ और? मिया खलीफा ने बताई हिजाब में पोर्न शूट की असली कहानी, ISIS तक से मिली थी धमकी