ताज़ा खबर
 

एमएच 17 में सवार लड़की के भाई ने किया यूक्रेन में दुर्घटनास्थल का दौरा: रिपोर्ट

हेग। दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान एमएच17 में सवार एक पीड़ित के रिश्तेदार एक डच नागरिक ने अपनी चचेरी बहन के अवशेषों की खोज में यूक्रेन में उस स्थान का दौरा किया, जहां विमान गिरा था। इस बात की जानकारी डच टेलीविजन ने दी।   राष्ट्रीय जन प्रसारक एनओएस ने रॉबी ओहलर्स को जल चुके जहाज के […]

Author Updated: October 20, 2014 11:52 AM
एमएच 17 में सवार लड़की के भाई ने किया यूक्रेन में दुर्घटनास्थल का दौरा

हेग। दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान एमएच17 में सवार एक पीड़ित के रिश्तेदार एक डच नागरिक ने अपनी चचेरी बहन के अवशेषों की खोज में यूक्रेन में उस स्थान का दौरा किया, जहां विमान गिरा था। इस बात की जानकारी डच टेलीविजन ने दी।

 
राष्ट्रीय जन प्रसारक एनओएस ने रॉबी ओहलर्स को जल चुके जहाज के मलबे में खोजबीन करते हुए दिखाया। जहाज के कुछ अवशेष अभी भी वहीं पड़े हैं, जहां मलेशिया एयरलाइन्स का विमान 17 जुलाई को दुर्घटनाग्रस्त हुआ था और इसमें सवार सभी 298 लोग मारे गए थे।

 
डच फॉरेंसिक विशेषज्ञों ने 278 मृतकों की पहचान तो कर ली है लेकिन डेरी ओहलर्स (20) का कोई सुराग अभी तक नहीं मिला है। जिस समय बोइंग 777 दुर्घटनाग्रस्त हुआ, तब वह अपने दोस्त ब्रायस फ्रेडेरिक्ज (23) के साथ बाली जा रही थी।

 

 

मीडिया में आज आई खबर के अनुसार, जर्मन खुफिया विभाग ने मास्को समर्थक विद्रोहियों पर आरोप लगाया था कि उन्होंने यूक्रेन के सरकारी बलों से छीनी गई मिसाइलों के जरिए एमएच 17 विमान को मार गिराया।
कीव और पश्चिमी देशों ने पहले आरोप लगाया था कि अलगाववादी लड़ाकों ने रूस से मिली सतह से हवा में वार करने वाली बीयूके मिसाइल के जरिए एमएच17 को निशाना बनाया। मास्को ने इन आरोपों को खारिज किया था।

 

 

एनओएस ने कहा कि ओहलर्स का परिवार बेहद ‘‘क्रोधित और निराश है क्योंकि उसका पता लगाने में इतना लंबा समय लग रहा है।’’
जिस समय अपनी बहन का सामान तलाशने में जुटे ओहलर्स टूटे-फूटे ईंजन और लैंडिंग गियर के पास पड़े एक फटे सूटकेस की जांच कर रहे थे, उस समय थोड़ी ही दूरी से आने वाली गोलीबारी की आवाजें सुनी जा सकती थीं।

 
प्रसारणकर्ता ने कहा, ‘‘इसलिए रॉबी ओहलर्स ने खुद घटनास्थल पर जाने का फैसला किया और अलगाववादियों से संपर्क करके इसका इंतजाम किया।’’
डच जांचकर्ताओं ने कीव और रूस समर्थक अलगाववादियों के बीच युद्ध के कारण इस इलाके में अपनी खोज अगस्त की शुरूआत में ही रद्द कर दी थी।
ओहलर्स के हवाले से कहा गया, ‘‘यह कहना दुखद है लेकिन इस समय जांच नहीं की जा सकती।’’

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories