ताज़ा खबर
 

डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी ने डेली मेल-यूएस ब्लॉगर पर किया 15 करोड़ डॉलर का मुकदमा, रिपोर्ट में बताया था ‘एस्कॉर्ट’

हालांकि ‘डेली मेल’ और ‘टारप्ले डॉट नेट’ ने बयान जारी करके इन्हें छापने के लिए मेलानिया से माफी मांगी। मेलानिया के वकील ने कहा कि ‘डेली मेल’ के रिपोर्ट वापिस लेने के बावजूद मेलानिया मुकदमा वापिस नहीं लेंगी।

Author वॉशिंगटन | September 2, 2016 12:48 PM
ओहियो के क्लीवलैंड में रिपब्लिकन नेशनल कन्वेंशन के दौरान पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ डोनाल्ड ट्रंप। (REUTERS/Mark Kauzlarich/File Photo/July 18, 2016)

अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप ने ब्रितानी समाचार पत्र ‘डेली मेल’ और अमेरिका के एक ब्लॉग के खिलाफ उन रिपोर्टों को लेकर 15 करोड़ डॉलर के मुआवजे की मांग करते हुए मुकदमा किया है जिनमें आरोप लगाया गया था कि उन्होंने 1990 के दशक में एक ‘एस्कार्ट’ के रूप में काम किया था। दोनों मीडिया संस्थानों ने इस संबंधी अपनी रिपोर्टों को वापस ले लिया है और एक माफी जारी की है।

मेलानिया के वकील चार्ल्स हार्डर ने एक बयान में कहा, ‘इन प्रतिवादियों ने मेलानिया ट्रंप के बारे में कई ऐसे बयान दिए जो 100 प्रतिशत गलत हैं और उनकी निजी एवं पेशेवर प्रतिष्ठा को बहुत नुकसान पहुंचाने वाली हैं।’ उन्होंने कहा, ‘बचावकर्ताओं ने बिना किसी स्पष्टीकरण के अमेरिका और विश्वभर में लाखों लोगों के बीच अपने झूठी बातों का प्रसारण किया। उन्होंने जो झूठ बोले, उनमें एक झूठ यह था कि मेलानिया ट्रंप ने अपने पति से मिलने से पहले 1990 के दशक में एक ‘एस्कार्ट’ के रूप में काम किया था।’

हार्डर ने बताया कि ये रिपोर्ट मेलानिया के लिए बहुत हानिकारक हैं और इसी लिए मीडिया संस्थानों के खिलाफ मुकदमा दायर करके प्रतिष्ठा को पहुंचे नुकसान के एवज में उनसे 15 करोड़ डॉलर की राशि की मांग की गई है। मुकदमा गुरुवार (1 सितंबर) को मेरीलैंड अदालत में दायर किया था। इसके कुछ ही देर बाद, ‘डेली मेल’ और ‘टारप्ले डॉट नेट’ ने बयान जारी करके अपनी रिपोर्ट वापिस ली और इन्हें छापने के लिए मेलानिया से माफी मांगी। हार्डर ने ‘सीएनएन’ को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि ‘डेली मेल’ के रिपोर्ट वापिस लेने के बावजूद मेलानिया मुकदमा वापिस नहीं लेंगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App