scorecardresearch

PNB Scam: पहले से कमजोर हो गया मेहुल चोकसी? ताजा फोटो में छड़ी लिए आया नजर; डोमिनिका में मिली राहत

मेहुल चोकसी 2018 में भारत से भागा था और एंटीगुआ में रह रहा है। उसने एंटीगुआ की ही नागरिकता ले रखी है।

mehul choksi, pnb scam, mehul choksi health
मेहुल चोकसी का स्वास्थ्य ठीक नहीं (फोटो- @ANI & Express archive)

पंजाब नेशनल बैंक स्कैम (PNB Scam) का आरोपी मेहुल चोकसी अब काफी कमजोर हो गया है। डोमिनिका में एक मामले की सुनवाई के दौरान चोकसी पहले से काफी अलग दिखा। पहले चोकसी जहां हट्टा-कट्टा दिखता था, वहीं अब हाथों में छड़ी के लिए, बीमार सा नजर आ रहा है।

डोमिनिका मामले में राहत- डोमिनिकन सरकार ने भगोड़े मेहुल चोकसी के खिलाफ अवैध प्रवेश के सभी आरोपों को हटा दिया है। 13,000 करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक ऋण धोखाधड़ी मामले में प्रमुख आरोपी, चोकसी को डोमिनिकन अधिकारियों ने पिछले साल 24 मई को देश में अवैध एंट्री के आरोप में गिरफ्तार किया था।

चोकसी भारत से जनवरी 2018 से भागा और एंटीगुआ चला गया। पिछले साल 23 मई को चोकसी अचानक से एंटीगुआ से लापता हो गया और रहस्यमय तरीके से डोमिनिका में पकड़ा गया था। वहां उसने खराब स्वास्थ्य का हवाला देते हुए जमानत की मांग की थी, तब वो व्हीलचेयर पर नजर आया था, तब उसका स्वास्थ्य उतना डाउन नहीं लग रहा था, लेकिन इस बार चोकसी का स्वास्थ्य ठीक नहीं लग रहा है।

मिल गई थी जमानत- पिछले साल जुलाई में डोमिनिका हाईकोर्ट से मेडिकल आधार पर जमानत मिलने के बाद वह वापस एंटीगुआ चला गया था। उच्च न्यायालय ने चोकसी को इलाज के बाद डोमिनिका वापस आने के लिए कहा था, परिवार के एक करीबी सूत्र ने तब कहा था- “वह बहुत अस्वस्थ हैं। उनके इलाज में लंबा समय लग सकता है।”

डोमिनिका में चोकसी की गिरफ्तारी के बाद, सीबीआई और विदेश मंत्रालय के अधिकारियों को लेकर एक निजी जेट डोमिनिका गया था। चोकसी को वापस भारत लाने के लिए। हालांकि, चोकसी के खिलाफ अवैध प्रवेश के आधार पर मामला अदालत में जाने के बाद, उन्हें वापस लौटना पड़ा था।

चोकसी ने ‘अवैध प्रवेश’ के मामले को लेकर आरोप लगाया गया था कि एंटीगुआ और भारत की तरह दिखने वाले पुलिसकर्मियों ने 23 मई को एंटीगुआ के जॉली हार्बर से उसका अपहरण कर लिया था और एक नाव पर डोमिनिका लाया गया था। वो खुद डोमिनिका नहीं आया था। डोमिनिका मामले के लिए चोकसी भारत पर आरोप लगाता रहा है। चोकसी एक नागरिक के रूप में 2018 से एंटीगुआ में रह रहा है।

क्या है पूरा मामला- चोकसी और उसका भांजा, नीरव मोदी पर अधिकारियों को रिश्वत देकर लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) और फॉरेन लेटर ऑफ क्रेडिट (एफएलसी) का उपयोग करके कुल 13,500 करोड़ रुपये का स्कैम करने का आरोप है। इस मामले का जबतक पता चलता और केस दर्ज होता दोनों मामा-भांजे इंडिया से फरार हो गए। नीरव मोदी ब्रिटेन में तो वहीं चोकसी एंटीगुआ में। दोनों के प्रत्यर्पण की कोशिशों में भारत लगा हुआ है।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट