मदरसे से की थी भागने की कोशिश, मौलवी ने 8 साल के बच्चे को पीटकर मार डाला - Maulvi Arrested in Pakistan For Killing A Child After On Fleeing From Madarsa - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मदरसे से की थी भागने की कोशिश, मौलवी ने 8 साल के बच्चे को पीटकर मार डाला

पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘मौलवी ने बच्चे को छड़ी से बुरी तरह पीटा था। उसके शव पर मार-पिटाई के निशान नजर आ रहे थे।’’

Author कराची | January 22, 2018 3:33 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

पाकिस्तान के कराची में मदरसे से भागने की कोशिश करने पर आठ साल के एक विद्यार्थी को कथित रूप से पीट-पीटकर मार डालने को लेकर एक मौलवी को गिरफ्तार किया गया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने रविवार को बताया कि बिन कासिम शहर में मौलवी ने मुहम्मद हुसैन को मदरसे से भागने की कोशिश करते हुए पकड़ा। अधिकारी ने कहा, ‘‘उसके माता-पिता उसे वापस मदरसे लेकर आए और कारी नजमुद्दीन ने उस लड़के पर अपना सारा गुस्सा निकाल दिया।’’ अधिकारी ने कहा, ‘‘उसे छड़ी से बुरी तरह पीटा गया। उसके शव पर मार-पिटाई के निशान नजर आ रहे थे।’’

बच्चे के माता-पिता ने शव का पोस्टमार्टम नहीं होने दिया। पुलिस ने कहा कि नजमुद्दीन के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा। पुलिस के अनुसार पहले भी जब वह मदरसे से भागता था तब उसे शारीरिक दंड दिया जाता था। वहीं दूसरी तरफ, पाकिस्तान ने काबुल के एक लग्जरी होटल में हुए भीषण आतंकी हमले की रविवार को कड़ी निंदा की तथा देशों से बढ़ते आतंकवाद से प्रभावी तरीके से निपटने एवं इसके खात्मे के लिए सहयोग का आह्वाहन किया।

बता दें कि काबुल के इंटरकॉन्टीनेन्टल होटल में घुसकर बंदूकधारियों ने अंधाधुंध गोलीबारी की जिसमें कम से कम छह लोग मारे गए। सुरक्षा बलों को इन हमलावरों से निपटने में करीब 12 घंटे का समय लगा। विदेश विभाग ने एक बयान में कहा, ‘‘पाकिस्तान बीती शाम काबुल के होटल में हुए निर्मम आतंकी हमले की कड़ी निंदा करता है।’’ बयान में आगे कहा गया है, ‘‘हमारे विचार से, आतंकवाद के बढ़ते खतरे से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए देशों के बीच सहयोग महत्वपूर्ण है।’’ ध्यान रहे कि अफगानिस्तान पाकिस्तान पर उन आतंकियों को सुरक्षित पनाह मुहैया कराने का आरोप लगाता है जो अफगानिस्तान में आतंकी हमले करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App