scorecardresearch

कोई पेड़ पर गिरा तो किसी के नसीब में आई कार, नाइजीरिया में पैराशूट फटने की घटना पर लोगों ने ऐसे जताई हैरत

लैंडिंग जोन से बाहर गिरने के बावजूद गनीमत यह रही कि सभी पैराट्रूपर्स फिलहाल सुरक्षित हैं। कोई घायल नहीं हुआ।

कोई पेड़ पर गिरा तो किसी के नसीब में आई कार, नाइजीरिया में पैराशूट फटने की घटना पर लोगों ने ऐसे जताई हैरत
पैराशूट के फटने के बाद नीचे सड़क पर गिरे पैराट्रूपर्स। (फोटो- वीडियोग्रैब)

अफ्रीकी देश नाइजीरिया अपनी आजादी मिलने की तारीख पर कई बडे़ आयोजन करता है। हर साल पहली अक्टूबर को नाइजीरिया अपना स्वतंत्रता दिवस मनाता है। इसके लिए महीनों से तैयारियां शुरू हो जाती हैं। सबसे बड़ा आयोजन राजधानी अबुजा में होता है। इस साल सेना के पैराट्रूपर्स की योजना ऊपर पैराजंप करके करतब दिखाने की थी। इसकी तैयारी के लिए जब पैराट्रूपर्स अभ्यास कर रहे थे, इसी बीच कुछ गड़बड़ी हो गई।

दरअसल जब ये अभ्यास कर रहे थे, तभी न जाने कैसे इनका पैराशूट निर्धारित जगह से दूर जाकर नीचे गिरने लगा। ऐसा शायद पैराशूट के फटने की वजह से हुआ। इसके चलते कई पैराट्रूपर्स पेड़ों पर तो कई अन्य बिल-बोर्ड्स पर जा गिरे। कुछ लोग सड़क पर गिरे। लैंडिंग जोन से बाहर गिरने के बावजूद गनीमत यह रही कि सभी पैराट्रूपर्स फिलहाल सुरक्षित हैं। कोई घायल नहीं हुआ। हालांकि यह कोई बता नहीं पा रहा है कि हादसा कैसे हुआ।

सोशल मीडिया पर वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है

सोशल मीडिया पर इनके वीडियो तेजी से वायरल हो रहे हैं। कुछ लोगों ने आशंका जताई है कि इन लोगों को रूसी ट्रेनरों ने ट्रेनिंग दी थी। उन्होंने सही ट्रेनिंग नहीं दी। इसी का नतीजा यह गड़बड़ी है। बहरहाल कई तरह के कमेंट लगातार आ रहे हैं।

मैक्स उमर @Maxgabari नाम के यूजर ने कहा, “ये खेल से बाहर नहीं। .. चीजें कहीं भी कभी भी गलत हो जाती हैं .. ये लोग अच्छा कर रहे हैं .. इसे ठीक करने के लिए अभ्यास करना पड़ता है और साथ ही मौसम वास्तव में खराब था।” अबू हमजाह@TasleemOfx नाम के एक अन्य यूजर ने कहा, “यह एक ट्रेनिंग एक्सरसाइज है, लोग उनका मजाक क्यों उड़ा रहे हैं?”

अबू हमजाह@TasleemOfx ने लिखा, “कहां के खिलाफ? वे 1 अक्टूबर को ईगल स्क्वायर पर परेड के लिए प्रशिक्षण ले रहे हैं, क्या आप उम्मीद करते हैं कि वे रेगिस्तान में इसके लिए प्रशिक्षण लेंगे?”

अल-इमारती@E_BenYousef ने अपने ट्वीट में कमेंट किया, “ऐसा इसलिए है क्योंकि हमें किसी भी नाइजीरियाई की आलोचना करनी चाहिए। भले ही यह बहुत जरूरी विकास हो। यहां तक ​​कि अमेरिकी सेना को भी उनके प्रशिक्षण में दुर्घटना का सामना करना पड़ता है, लेकिन बर्फ के टुकड़े का भी अपना एक दिन होना चाहिए।”

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 30-09-2022 at 09:42:00 pm
अपडेट