ताज़ा खबर
 

मैनचेस्टर एरिना धमाकों के बाद गुरुद्वारों ने दिखाई मानवता, पीड़ितों को देंगे शरण और खाना

Manchester Arena Blast: सोमवार देर रात मनचेस्टर एरिना में 23 वर्षीय अमेरिकी पॉप सिंगर एरियाना ग्रांडे का एक पॉप शो चल रहा था, उसी दौरान ये धमाके हुए। इसमें 22 लोगों की मौत हो गई है और 59 लोग घायल हो गए हैं।

Author Updated: May 23, 2017 2:50 PM
धमाकों के बाद लोगों को समझाने में जुटी पुलिस। (Photo- AP)

ब्रिटेन के मैनचेस्टर एरीना में एक पॉप शो के दौरान हुए धमाकों के बाद वहां स्थित गुरुद्वारों ने मानवता की मिसाल पेश की है। उन्होंने पीड़ितों को शरण देने का एेलान किया है। इलाके के 4 गुरुद्वारों का पता ट्वीट करते हुए हरजिंदर सिंह कुकरेजा ने लिखा, मैनचेस्टर के गुरुद्वारों खाने और रहने की व्यवस्था है और इसके दरवाजे सभी लोगों के लिए खुले हुए हैं। जिन गुरुद्वारों में यह व्यवस्था की गई है, उसमें 57 अपर चार्लटन रोड, मैनचेस्टर M16 7 RQ स्थित श्री गुरु गोबिंद सिंह गुरुद्वारा एजुकेशनल एंड कल्चरल सेंटर, 12 शेरबॉर्न स्ट्रीट, मनचेस्टर, M3 1FE स्थित गुरुद्वारा श्री गुरु हरकिशन साहिब, 98 हेवुड स्ट्रीट, मैनचेस्टर M8 oDT स्थित दममेश सिख टेंपल और 21 डर्बाय स्ट्रीय, मैनचेस्टर M8 8RY स्थित सेंट्रल गुरुद्वारा मैनचेस्टर शामिल है। इसके अलावा लोगों को ट्विटर पर भी मदद दी जा रही है। एक ट्विटर यूजर ने लिखा, अगर किसी को मदद या आज रात बिताने की जगह चाहिए तो मनचेस्टर एरिना से महज 10 मिनट की दूरी पर मेरा घर है। यहां आपको एक अलग कमरा और 2 सोफे मिलेंगे।

मैनचेस्टर धमाके के बाद का वीडियो ः

बता दें कि सोमवार देर रात मैनचेस्टर एरिना में 23 वर्षीय अमेरिकी पॉप सिंगर एरियाना ग्रांडे का एक पॉप शो चल रहा था, उसी दौरान ये धमाके हुए। इसमें 22 लोगों की मौत हो गई है और 59 लोग घायल हो गए हैं। घटना के बाद सामने आए वीडियो में दिख रहा है कि जनता में धमाके के बाद अफरा-तफरी मच गई और लोग जान बचाने के लिए बेतहाशा भागने लगे। संगीत कार्यक्रम में शामिल होने वाले ज्यादातर नौजवान थे। मैनचेस्टर पुलिस की तरफ से जारी बयान  में कहा गया है कि जब तक कोई और सबूत नहीं मिलता वो इसे “आतंकवादी हमला” मान कर चल रहे हैं। मैनचेस्टर एरीना के प्रबंधकों की तरफ जारी बयान में कहा गया है कि धमाका प्रवेश द्वार के निकट हुआ। इसे 2005 में लंदन में हुए आतंकी हमले के बाद पिछले 12 साल में ब्रिटेन में हुआ सबसे बड़ा हमला माना जा रहा है। लंदन हमले में 50 लोग मारे गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 दक्षिण कोरिया की सत्ता से हटाई गई राष्ट्रपति पार्क पर दर्ज मुकदमे की सुनवाई शुरु
2 मैनचेस्टर धमाका: आईएसआईएस समर्थकों ने सोशल मीडिया पर मनाई खुशी, एक ने लिखा- उम्मीद है, हमलावर खिलाफत का सिपाही होगा
3 आतंक पर लगाम: अमेरिका और छह खाड़ी देशों ने लश्कर-ए-तैयबा-हक्कानी-तालिबान की फंडिंग रोकने के लिये किया समझौता