ताज़ा खबर
 

मालदीव: प्रदर्शन कर रहे पत्रकारों पर पुलिस ने मिर्च पाउडर फेंका, 19 पत्रकार गिरफ्तार

प्रदर्शनकारियों ने सरकार पर आरोप लगाया कि देश के सबसे पुराने अखबार का प्रकाशन निलंबित करने वाले अदालत के एक आदेश में उसका हाथ है।
Author माले | April 4, 2016 21:29 pm
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

मालदीव में पुलिस ने देश में कथित रूप से प्रेस की स्वतंत्रता कुचले जाने के विरोध में प्रदर्शन कर रहे पत्रकारों और कार्यकर्ताओं के खिलाफ मिर्ची पाउडर का उपयोग किया और थोड़ी देर के लिए 19 पत्रकारों को हिरासत में ले लिया। मालदीव के राष्ट्रपति अब्दुल गय्यूम की सत्तारूढ़ पार्टी ने संसद में एक विधेयक पेश किया है जिसमें मानहानि के लिए भारी जुर्माना और कैद की सजा का प्रावधान किया गया है। मीडियाकर्मी मानहानि पर सरकार के इस कदम पर रविवार (3 अप्रैल) को राष्ट्रपति के कार्यालय के निकट जमा हुए। उन्होंने मीडिया के खिलाफ सरकार के कथित अन्य कदमों का भी विरोध किया।

प्रदर्शनकारियों ने सरकार पर आरोप लगाया कि देश के सबसे पुराने अखबार का प्रकाशन निलंबित करने वाले अदालत के एक आदेश में उसका हाथ है। प्रदर्शनकारियों ने दो साल पहले एक पत्रकार के लापता होने के मामले की जांच में विलंब पर भी विरोध जताया। उन्होंने अदालत की रिपोर्टिंग से कुछ मीडिया संगठनों को अलग रखने का मुद्दा भी बुलंद किया।

इस बीच, पुलिस ने एक बयान में कहा कि उन्होंने मीडियाकर्मियों का प्रदर्शन इस लिए तोड़ा क्योंकि वे राष्ट्रपति कार्यालय के नजदीक सुरक्षित जोन में जमा हुए थे और बैरिकेड पर चढ़ गए थे। पुलिस ने कहा कि उसने 19 पत्रकारों को गिरफ्तार किया था। सभी 19 पत्रकारों को कुछ घंटों बाद देर रात रिहा कर दिया गया था। उनके खिलाफ कोई आरोप नहीं लगाए गए हैं।

उधर, सरकार के प्रवक्ता इब्राहीम हुसैन शिहाब ने कहा कि पुलिस ने प्रदर्शनकारी मीडियाकर्मियों के खिलाफ मिर्च के पाउडर का उपयोग किया था। इस बीच, पुलिस ने पहली बार पुष्टि की कि 2014 में लापता हुए विपक्ष-समर्थक वेबसाइट के पत्रकार अहमद रिलवान का अपहरण हुआ था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.