ताज़ा खबर
 

महात्मा गांधी की प्रतिमा को वॉशिंगटन में उपद्रवियों ने पहुंचाया नुकसान, अमेरिका ने मांगी माफी, कहा- दोषियों की तलाश जारी

Mahatma Gandhi Statue in US: भारत में तैनात अमेरिकी राजदूत केन जस्टर ने कहा कि वॉशिंगटन में गांधी प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया जाना दुखद है। इसके लिए हमें खेद है। कृपया हमारी ओर से विनम्र माफी को स्वीकार करें।

statueअमेरिका में महात्मा गांधी की प्रतिमा को उपद्रवियों ने पहुंचाया नुकसान

अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन डीसी में कुछ उपद्रवी तत्वों की ओर से महात्मा गांधी की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाए जाने पर अमेरिका ने खेद जताया है। भारत में तैनात अमेरिकी राजदूत केन जस्टर ने कहा कि वॉशिंगटन में गांधी प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया जाना दुखद है। इसके लिए हमें खेद है। कृपया हमारी ओर से विनम्र माफी को स्वीकार करें। अमेरिका में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लायड की पुलिस हिरासत में मौत के बाद से हिंसक प्रदर्शनों का दौर चल रहा है। ऐसे ही एक प्रदर्शन के दौरान कुछ उपद्रवी तत्वों ने वॉशिंगटन स्थित भारतीय दूतावास के बाहर लगी महात्मा गांधी की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की।

सूत्रों के मुताबिक वॉशिंगटन पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और दोषियों की तलाश की जा रही है। अमेरिका में अश्वेत नागरिक की मौत के बाद से BlackLivesMatter के नाम से लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। इस बीच ट्रंप ने इस हिंसा को लेकर डेमोक्रेट्स पर निशाना साधा है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने एक टीवी चैनल से बातचीत करते हुए गुरुवार को कहा,‘आपको वर्चस्व कायम करने वाला सुरक्षा बल रखना होगा। हमें कानून व्यवस्था कायम रखने की जरूरत है। ’ उन्होंने कहा, ‘आपने देखा कि इन सभी जगहों पर, जहां समस्याएं हुईं, वहां पर रिपब्लिकन पार्टी सत्‍ता में नहीं है। वहां उदारवादी डेमोक्रेट शासन में हैं।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अमेरिका और चीन के बीच रिश्तों में और खटास, ट्रंप प्रशासन ने चीनी एयरलाइंस को ब्लॉक करने की योजना बनाई
2 चीन ने कहा- सीमा पर तनाव को लेकर, ‘तीसरे पक्ष’ की मध्यस्थता की कोई जरूरत नहीं, दोनों देशों के बीच शीर्ष सैन्य स्तर पर होगी बातचीत
3 US अशांतः ‘अहम के मद में डोनाल्ड ट्रंप’, जो बाइडेन बोले- प्रदर्शनकारियों पर जब फ्लैश ग्रेनेड फेंके जा रहे थे, तब राष्ट्रपति फोटो खिंचाने में मशगूल थे