Live: टर्की मिलिट्री का पूरे देश पर कब्जा- अंकारा, इंस्ताबुल में हेलीकॉप्टर से हमले में 17 पुलिसकर्मियों की मौत - Jansatta
ताज़ा खबर
 

Live: टर्की मिलिट्री का पूरे देश पर कब्जा- अंकारा, इंस्ताबुल में हेलीकॉप्टर से हमले में 17 पुलिसकर्मियों की मौत

टर्की सेना ने अपने बयान में कहा कि उसने सत्ता पर अपना नियंत्रण कर लिया है। अंकारा के बाहरी इलाके में स्थित स्पेशल पुलिस बल के मुख्यालय पर हेलीकॉप्टर से हमले में 17 पुलिस अधिकारी मारे गए।

Author टर्की (अंकारा) | July 16, 2016 8:39 AM

टर्की की सेना ने हाल ही एक बयान जारी कर वहां के माहौल को गर्म कर दिया है। टर्की सेना ने अपने बयान में कहा कि उसने सत्ता पर अपना नियंत्रण कर लिया है। टर्की से आ रही रिपोर्टों के मुताबिक राजधानी अंकारा में गोलीबारी की आवाजें सुनाई हैं और सैनिक हैलिकॉप्टर और जेट विमान शहर के ऊपर से उड़ते देखे गए हैं। इसके बाद से वहां पर अफरा तफरी मच गई।

AFP के मुताबिक घटना के दौरान सेना ने इस्तांबुल में भीड़ पर गोलियां दागीं है, जिसमें कई लोगों के हताहत होने की आशंका है। AFP ने साथ ही बताया कि तख्तापलट में इस्तेमाल किए जा रहे एक हेलीकॉप्टर को एफ-16 विमान ने मार गिराया है।

वहीं एपी की रिपोर्ट के मुताबिक, अंकारा के बाहरी इलाके में स्थित स्पेशल पुलिस बल के मुख्यालय पर हेलीकॉप्टर से हमले में 17 पुलिस अधिकारी मारे गए। हालांकि कुछ देर बाद पुलिस ने टर्किश सेना को अरेस्ट कर लिया है। 

 

;

हाल ही भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवाक्ता विकास स्वरूप ने तुर्की में रह रहे भारतीय नागरिकों को हालात स्पष्ट होने तक सार्वजनिक स्थानों पर जाने से बचने और घरों में ही रहने की सलाह दी है। उन्होंने बताया कि भारतीय नागरिक ज्यादा जानकारी के लिए अंकारा में +905303142203 और इस्तांबुल में +905305671095 पर संपर्क कर सकते हैं।

इसके बाद अंकारा और इस्तांबुल में एयरपोर्ट पर सेना के टैंक तैनात कर बंद कर दिया गया है, वहां के बॉस्फॉरस और फतिह सुल्तान मेहमत ब्रिज पर ट्रैफिक को रोक दिया गया है। जहां पर सेना कै टैंक्स और फाइटर प्लेन घुस आए। इसके बाद टर्की से जाने वाली सभी अंतराष्ट्रीय उड़ानों को भी रद्द कर दिया।

हालांकि प्रधानमंत्री का कहना है कि सैन्य तख्तातलट की कोशिश नाकाम कर दी गई है। पीएम बिनअली यिलदरिम ने एनटीवी टेलीवीजन को फोन पर बताया, यहां पर सेना की ओर से तख्तापलट की कोशिश की गई लेकिन टर्की लोकतंत्र में रोड़ा डालने वाले ऐसे किसी कदम की इजाजत नहीं देगा।


उन्होंने कहा कि वे किसी भी कीमत पर तख्तापलट की आशंका की दिशा में हम काम कर रहे हैं और सेना की कोशिश को कामयाब नहीं होने देंगे।

Police-officers-stand-guard-near-the-Turkish-military-headquarters-in-Ankara

हालांकि इस मामले में अभी विस्तार से कोई जानकारी नहीं मिल पा रही है। वहीं AFP ने स्थानीय मीडिया के हवाले से बताया कि सेना ने सत्ता पर कब्जा कर लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App