ताज़ा खबर
 

बांग्लादेश में आकाशीय बिजली गिरने से 35 की मौत

बांग्लादेश के मौसम वैज्ञानिक सुजित कुमार देब शर्मा ने बताया कि देश में हर साल तकरीबन 300 लोग आकाशीय बिजली के शिकार होते हैं।
Author ढाका | May 13, 2016 18:51 pm
मौसमी ‘काल-बैशाखी’ के साथ ही आकाश से बिजली गिरी जिससे पबना में सबसे ज्यादा आठ लोगों की मौत हो गई।(रॉयटर्स फोटो)

बांग्लादेश में गरज के साथ छींटे पड़ने और आकाशीय बिजली गिरने से महिलाओं और बच्चों समेत कम से कम 35 लोगों की मौत हो गई।
मौसम विभाग ने बताया कि राजधानी ढाका समेत देश के 14 जिलों में गरज के साथ छींटे पड़े। मौसमी ‘काल-बैशाखी’ के साथ ही आकाश से बिजली गिरी जिससे पबना में सबसे ज्यादा आठ लोगों की मौत हो गई जबकि पड़ोस के सिराजगंज और राजशाही जिलों में पांच-पांच लोगों की मौत हुई।

रिपोर्टों में बताया गया है कि आकाशीय बिजली गिरने से किशोरगंज और ब्राह्मणबढ़िया में चार-चार लोगों की मौत हो गई। राजधानी ढाका में बारिश के दौरान फुटबॉल खेलते समय बिजली गिरने से इंजीनियरिंग कॉलेज के दो छात्रों की मौत हो गई। देश के अन्य स्थानों से भी लोगों के मरने की खबर मिली है। मरने वालों में कुछ बच्चे भी शामिल हैं जो बारिश के दौरान खुले में खेल रहे थे। बहरहाल, आकाशीय बिजली के सबसे ज्यादा शिकार किसान हुए जो खेतों में काम कर रहे थे। इनमें कई किसान महिलाएं शामिल हैं।

बांग्लादेश के मौसम वैज्ञानिक हफीजुर रहमान ने बताया, ‘‘बांग्लादेश में हर साल मार्च से मई के बीच मौसकी काल-बैशाखी आती है जिसमें आसमान से बिजली भी गिरती है।’’ उन्होंने बताया कि यह परिघटना ज्यादातर राजशाही और सिलहट इलाकों में दिखती है। बांग्लादेश के मौसम वैज्ञानिक सुजित कुमार देब शर्मा ने बताया कि देश में हर साल तकरीबन 300 लोग आकाशीय बिजली के शिकार होते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.