ताज़ा खबर
 

लीबिया: विस्फोट में केरल की नर्स और बच्चे की मौत, परिवार ने सरकार से मांगी शव वापस लाने में मदद

नर्स सुनू सत्यन के पिता सत्यन नायर ने कहा कि उनकी बेटी सुनू और उसका डेढ़ साल का बच्चा शुक्रवार को घर में सोये थे। तभी एक विस्फोट में दोनों की मौत हो गई।

Author कोच्चि | Updated: March 26, 2016 5:20 PM
नायर ने काडूथुरूथी के विधायक मोन्स जोसफ के मार्फत लिखे पत्र में अपनी बेटी और नाती के शव वापस लाने में सरकार से मदद मांगी है। (Photo Source: REUTERS/Representative Image)

लीबिया में काम कर रही केरल की एक नर्स और उसके डेढ़ साल के बच्चे की मौत वहां जारी हिंसा में एक बम विस्फोट में हो गई। नर्स सुनू सत्यन के पिता सत्यन नायर ने कहा कि उनकी बेटी सुनू और उसका डेढ़ साल का बच्चा शुक्रवार को घर में सोये थे। तभी एक विस्फोट हुआ। इस विस्फोट में दोनों की मौत हो गई। कोट्टायम जिले के कोंडाडू से ताल्लुक रखने वाले नायर ने बताया कि सुनू लीबिया के अज जाविया के जाविया मेडिकल सेंटर में काम करती थी। उसका पति विपिन कुमार मेल नर्स है और घटना के समय घर में मौजूद नहीं था। वह ड्यूटी पर था।नायर ने शवों को वापस लाने के लिए सरकार से मदद मांगी है।

सरकार को लिखे पत्र में उन्होंने कहा कि शुक्रवार को कल मुझे फोन से सूचना मिली कि मेरी बेटी और उसके डेढ़ साल के बच्चे की मौत एक बम विस्फोट में उसके निवास पर उस वक्त हो गई जब वे सो रहे थे।नायर ने कहा कि उसे अपनी बेटी के सहकर्मियों और रिश्तेदारों से बस इतनी ही सूचना मिल पाई है।

Read Also: लीबिया में आतंकी हमला, पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में बम से लदा ट्रक घुसाया, धमाके में 60 मरे

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि उन्होंने लीबिया में भारतीय दूतावास से इस घटना का ब्योरा मांगा है। सुषमा ने अपने ट्वीट में कहा, ‘मैंने लीबिया में अपने राजदूत से एक भारतीय नर्स और उसके बच्चे की मौत के बारे में रिपोर्ट मांगी है।’

नायर ने काडूथुरूथी के विधायक मोन्स जोसफ के मार्फत लिखे पत्र में अपनी बेटी और नाती के शव वापस लाने में सरकार से मदद मांगी है। इस बीच, केरल के गृहमंत्री रमेश चेन्नीतला ने कहा कि आठ या नौ लोग लीबिया में फंसे हैं और उन्हें वापस लाने की कोशिश जारी है। चेन्नीतला ने बताया कि केरल सरकार इस मुद्दे पर सतर्क है। हम विदेश मंत्रालय और लीबिया में दूतावास से संपर्क में हैं। हम वहां फंसे सभी लोगों को सुरक्षित निकालने की कोशिश कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories