ताज़ा खबर
 

बहुत कम दिखती है किम जोंग उन की पत्‍नी, इस बार शराब के बीच मीटिंग में हुई शामिल, जानिए क्‍यों

ये एक परंपरागत 'शत्रु' के साथ तनावपूर्ण माहौल में होने वाली कोई वार्ता नहीं थी। डिनर के लिए यहां खास इंतजाम किया गया था। एक सेंटर टेबल पर गुलाबी लिबास में खुद किम जोंग की पत्नी मौजूद थी, उसके बगल में किम जोंग थे, बाकी जगहों पर दूसरे मेहमान बैठे थे। सोमवार (5 मार्च) शाम डिनर से पहले शराब का दौर शुरू हुआ, और ये घंटों तक चला। कई बोतलें आईं।

Kim Jong un, Kim Jong un wife, North Korea, South Korea, Pyongyang, Pyongyang dinner, USA, Asia, Donald Trump, Hindi news, News in Hindi, Jansatta5 मार्च 2018 को प्योंगयांग में उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच बैठक के दौरान अपने पति किम जोंग उन के साथ मौजूद है री सोल जू (सबसे बीच में) फोटो- AP

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन पत्नी री सोल जू सार्वजनिक कार्यक्रमों में कम ही दिखाई देती हैं। लेकिन 5 मार्च को उत्तर कोरिया के प्योंगयांग में हुई एक बेहद अहम कूटनीतिक मीटिंग में वह शामिल हुईं। ऐसा दावा एपी, टेलिग्राफ समेत दुनिया की कई न्यूज एजेंसियों ने किया है। इस मीटिंग में उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के नेताओं के बीच रिश्ते सामान्य करने को लेकर बाच हुई। इस मीटिंग की अहमियत का अंदाजा सिर्फ इस बात से लगाया जा सकता है कि इसके बाद ही अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप किम जोंग उन से मिलने को तैयार हो गये। द टेलिग्राफ ने एक रिपोर्ट में कहा है कि दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार चुंग एउई योंग के नेतृत्व में उत्तर कोरिया आए इन नेताओं को भी इस मीटिंग से इतनी बड़ी उम्मीद नहीं थी। रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण कोरिया के नेता जब मेजबानों के यहां डिनर के लिए पहुंचे तो वहां की गर्मजोशी देखकर आश्चर्यचकित रह गये।

ये एक परंपरागत ‘शत्रु’ के साथ तनावपूर्ण माहौल में होने वाली कोई वार्ता नहीं थी। डिनर के लिए यहां खास इंतजाम किया गया था। एक सेंटर टेबल पर गुलाबी लिबास में खुद किम जोंग की पत्नी मौजूद थी, उसके बगल में किम जोंग थे, बाकी जगहों पर दूसरे मेहमान बैठे थे। सोमवार (5 मार्च) शाम डिनर से पहले शराब का दौर शुरू हुआ, और ये घंटों तक चला। कई बोतलें आईं। माहौल को हल्का करने के लिए चुटकुले सुनाये गये। इन सब के बीच कूटनीतिक बातचीत हुई।  इस बातचीत का असर दुनिया की राजनीति पर पड़ने वाला था।

उत्तर कोरियाई नेता के साथ अपनी बैठक के बाद दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार चुंग ने कहा कि किम ने प्रतिबद्धता जताई कि उत्तर कोरिया आगे किसी परमाणु या मिसाइल परीक्षण से बचेगा। उन्होंने कहा कि वह समझते हैं कि कोरिया गणराज्य( दक्षिण कोरिया) और अमेरिका के बीच नियमित सैन्य अभ्यास जारी रहने चाहिए। उन्होंने राष्ट्रपति ट्रंप से जल्द से जल्द मिलने की इच्छा जताई।’’  दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार चुंग एउई योंग ने इस मुलाकात के बारे में अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप को भी ब्रीफ किया। उन्होंने यह संदेश दिया कि उत्तर कोरियाई शासक किम ने‘‘ परमाणु निरस्त्रीकरण के प्रति कटिबद्धता जताई है’’  तथा‘‘ संकल्प किया है कि उत्तर कोरिया आगे और कोई परमाणु या मिसाइल परीक्षण नहीं करेगा।’’  दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जाए इन ने ट्रंप और किम की संभावित मुलाकात से जुड़े घटनाक्रम की सराहना की और इसे‘‘ ऐतिहासिक मील का पत्थर’’ बताया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 चीन से लगी सीमा की रक्षा में शहीद या घायल होने वाले जवानों को विशेष पेंशन
2 तो क्या इटली को बदल देंगे चुनाव के ये नतीजे?
3 डोनाल्‍ड ट्रंप से ज्‍यादा अमीर है केरल का यह कारोबारी
यह पढ़ा क्या?
X