kim jong un take late night tour in singapore crowd surprised - आधी रात सिंगापुर घूमने निकल पड़ा तानाशाह किम जोंग, देखकर चीखने लगी पब्लिक - Jansatta
ताज़ा खबर
 

आधी रात सिंगापुर घूमने निकल पड़ा तानाशाह किम जोंग, देखकर चीखने लगी पब्लिक

किम जोंग उन सिंगापुर के मशहूर सेंट रेजिस होटल में ठहरे हुए हैं। सोमवार की रात किम अपनी बहन किम यो जोंग और उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री री योंग हो के साथ बाहर घूमने निकले।

किम जोंग उन ने सोमवार की रात की सिंगापुर की सैर। (image source-KCNA via AP)

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ ऐतिहासिक मुलाकात के लिए सिंगापुर में हैं। यह पहली बार है कि उत्तर कोरिया का तानाशाह अपने घर से इतनी दूर किसी अन्य देश के दौरे पर है। खबर है कि सोमवार की रात को किम जोंग उन ने सिंगापुर घूमने का फैसला किया और अपने काफिले के साथ बाहर निकल पड़ा। बताया जा रहा है कि किम जोंग उन को अपने बीच पाकर सिंगापुर की जनता खुशी और आश्चर्य के मारे चींखने लगी। तानाशाह किम जोंग उन ने भी लोगों को निराश नहीं किया और उनकी तरफ से मुस्कुराकर और हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। इस दौरान लोगों ने जमकर किम जोंग उन की तस्वीरें खींची।

बता दें कि किम जोंग उन सिंगापुर के मशहूर सेंट रेजिस होटल में ठहरे हुए हैं। सोमवार की रात किम अपनी बहन किम यो जोंग और उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री री योंग हो के साथ बाहर घूमने निकले। किम जोंग पहले सिंगापुर के मरीना बे सैंड रिसोर्ट पहुंचे और इसकी छत पर मौजूद इनफिनिटी पूल से पूरे शहर का नजारा लिया। इसके बाद किम जोंग उन सिंगापुर के सेंट्रल बिजनेस डिस्ट्रिक्ट के बंदरगाह पहुंचे। इस दौरान सिंगापुर के विदेश मंत्री विवियन बालाकृष्णनन भी उनके साथ थे। विवियन बालाकृष्णनन ने किम जोंग उन के साथ एक सेल्फी भी ली, जिसे उन्होंने बाद में अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर भी किया।

उल्लेखनीय है कि बीते दिनों परमाणु बम परीक्षण के बाद लगे प्रतिबंधों के बाद किम जोंग उन दुनियाभर में अपनी इमेज सुधारने की कवायद कर रहा है। प्योंगयांग से करीब 5000 किलोमीटर दूर स्थित सिंगापुर में अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ हुई मुलाकात को भी किम की इसी कोशिश का नतीजा माना जा रहा है। साल 2011 में अपने पिता से सत्ता संभालने वाले किम जोंग उन अभी तक कई ऐतिहासिक फैसले ले चुके हैं, जिनमें अपने पड़ोसी दक्षिण कोरिया के साथ संबंध सुधारने की कवायद हो या फिर अमेरिका के साथ बातचीत। माना जा रहा है कि उत्तर कोरिया और अमेरिका के राष्ट्राध्यक्षों की मुलाकात के लिए सिंगापुर को एक न्यूट्रल जगह के तौर पर चुना गया है क्योंकि सिंगापुर का अमेरिका के साथ सुरक्षा समझौता है, वहीं सिंगापुर के चीन के साथ भी मजबूत संबंध है और उत्तर कोरिया का दूतावास भी इस देश में मौजूद है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App