ताज़ा खबर
 

केरल बाढ़ पीड़ितों पर किया असंवेदनशील कमेंट, ओमान में गई भारतीय की नौकरी

Kerala Rains Floods 2018 News, Kerala Floods Relief Fund: कंपनी के चीफ कम्यूनिकेशन ऑफिसर (CCO) वी नंदकुमार ने कहा कि उन्होंने मामले में संज्ञान लिया और शख्स को तुरंत नौकरी से निकाल दिया।

Author Updated: August 20, 2018 1:58 PM
Kerala Rains Floods 2018 News: अपनी टिप्पणी का विरोध होने के बाद राहुल ने फेसबुक पर एक वीडियो शेयर कर लोगों से माफी मांगी है। बीते रविवार को शेयर किए वीडियो में उन्होंने कहा कि जो उन्होंने किया उसके लिए माफी मांगते हैं। (ANI PHOTO)

Kerala Rains Floods 2018 News: केरल में भारी बारिश और बाढ़ की मार से जूझ रहे लोगों के खिलाफ असंवेदनशील कमेंट करने वाले एक कर्मचारी को गल्फ फर्म ने निकाल दिया। केरल के ही इस कर्मचारी पर आरोप है कि उसने बाढ़ पीड़ितों को लेकर सोशल मीडिया में असंवेदनशील कमेंट किया। न्यूज एजेंसी एएनआई ने दुबई के खलीज टाइम्स के हवाले से जानकारी दी कि लुलु ग्रुप इंटरनेशनल ने कंपनी के कर्मचारी राहुल चेरु पलायट्टू को नौकरी से निकाल दिया है। वो ओमान स्थित कंपनी की ब्रांच में कैशियर के पद पर तैना थे। पलायट्टू पर ये भी आरोप है कि उन्होंने फेसबुक के जरिए केरल बाढ़ पीड़ितों की स्वच्छता से जुड़ी जरुरतों पर मजाक उड़ाया। इसपर एक्शन लेते हुए फर्म के ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर नस्र मुबारक सलेम-अल-मावाली ने उन्हें टर्मिनेशन लैटर थमा दिया। इसमें लिखा गया है, ‘तुम्हें तत्काल प्रभाव से नौकरी से निकाला जाता है। इसकी वजह भारत के केरल राज्य में बाढ़ पीड़ितों लेकर दी आपकी अत्यधिक असंवेदनशील और अपमानजनक टिप्पणी है।’ लैटर में आगे लिखा गया, ‘आपको निर्देश दिया जाता है कि आप अपनी सभी आधिकारिक जिम्मेदारियों को तुरंत अपने रिपोर्टिंग मैनेजर को सौंप दें और फाइनल सेटलमैंट के लिए अकाउंट्स डिपार्टमेंट से संपर्क करें।’

अपनी टिप्पणी का विरोध होने के बाद राहुल ने फेसबुक पर एक वीडियो शेयर कर लोगों से माफी मांगी है। बीते रविवार को शेयर किए वीडियो में उन्होंने कहा कि जो उन्होंने किया उसके लिए माफी मांगते हैं। उन्होंने कहा, ‘जिस वक्त मैंने वो पोस्ट शेयर की तब मैं नशे में धुत था। उस वक्त मुझे नहीं पता था कि मैंने कितनी बड़ी गलती की है।’ दूसरी तरफ लुलु ग्रुप के चीफ कम्यूनिकेशन ऑफिसर (CCO) वी नंदकुमार ने कहा कि उन्होंने मामले में तुरंत संज्ञान लिया और शख्स को तुरंत नौकरी से निकाल दिया। अपने इस कदम ने उन्होंने समाज को बिल्कुल क्लियर संदेश दिया है कि ऐसे मामलों मैं कंपनी स्टैंड किया है। कंपनी एक संगठन के रूप में हमेशा मानवतावादी मूल्यों और उच्च नैतिक प्रथाओं के लिए खड़ी है।

गौरतलब है कि भारतीय अरबपति और लुलु ग्रुप के मालिक एमए युसुफ अली ने भी केरल पीड़ितों की 90.23 लाख दिरहम से मदद की है। केरल इन दिनों सदी की सबसे गंभीर बाढ़ से जूझ रहा है। करीब 400 लोगों की अबतक मौत हो चुकी है। इस आपदा के कारण राज्य को अभी तक 19,512 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। ये जानकारी खुद राज्य के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने बीते शनिवार को दी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 नवजोत सिद्धू के दौरे से पड़ोसी मुल्‍क खुश, पाकिस्तानी सीनेटर बोले- चाहते हैं सिद्धू यहीं से चुनाव लड़ें
2 …जब इमरान खान ने कहा था पाकिस्‍तान भारत से निपटने को तैयार, हमारा देश नवाज शरीफ जैसा कायर नहीं
3 UN के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान का निधन, 2001 में मिला था नोबेल शांति पुरस्कार
जस्‍ट नाउ
X